Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 23 December 2019


Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 23 December 2019



भारतीय आर्मी पर CAGकी रिपोर्ट

  • CAG ने एक रिपोर्ट दी है जिसमें सियाचिन क्षेत्र में एवं अन्य उॅफ़चे पर्वतीय क्षेत्रें (हिमआवरण) में तैनात सैनिकों snow Glasses, boots और आवश्यक खाद्य सामग्री की आपूर्ति कम है। राज्य सभा में इसे प्रस्तुत किया गया लेकिन लोकसभा में प्रस्तुत नहीं किया गया।
  • यहां खाद्य सामग्री कम आपूर्ति होती है जिसके कारण आवश्यक कैलोरी में 82 प्रतिशत की कमी देखी गई है। कमी के साथ आवश्यक स्पेशल राशन की आपूर्ति नहीं हो रही है और सस्ते सामानों से काम चलाया जा रहा है।
  • रिसर्च और डेवलपमेंट की कमी की तरफ भी इशारा इस रिपोर्ट में किया गया है और कहा गया है कि हम अब भी आयात पर निर्भरता बनी हुई है।
  • सिचायीन लद्दाख (UT) में स्थित एक ग्लैशियर है जो 76 किमी- लंबा है। यहीं से नुद्रा नदी का उद्गम होता है।
  • यहां पर तापमान हिमांक के करीब होता है तो साथ ही तीव्र गति से हवाएं चलती हैं एवं हिमस्खलन एक सामान्य समस्या है।
  • यह विश्व का सबसे ऊंचा सामरिक एवं सैनिक क्षेत्र है जहां 18000 फिट से लेकर 23000 फिट की ऊंचाई तक सैनिक तैनात रहते है।
  • Bane Top यहां एक आर्मी चौकी है जो विश्व की सबसे ऊंची चौकी है।
  • पाकिस्तान सियाचीन पर अपना सैनिक नियंत्रण बढ़ाना चाहता था। भारत को जैसे ही इसकी जानकारी लगी 13 अप्रैल 1984 को भारत ने आपरेशन मेघदूत चलाकर इस पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया।
  • इतने ऊंचाई पर रहने वाले सैनिक को विषम भौगोलिक परिस्थितियों का समाना करने के कारण अनेक प्रकार की बीमारियां हो जाती है। जैसे- Pulmonary Oedema, acute meuntain Sickness, forst bite, Hypothermia, snow blindness आदि।
  • इसी कारण किसी यूनिट को वहां 2 साल के लिए ही रखा जाता है और सैनिको सबसे ऊँचे स्थानों पर 90 दिन के लिए ही तैनात किया जाता है।

Water Tower and Climate Change

  • वाटर टावर से तात्पर्य जल स्रोत के इस भाग से है जहां से नदियां अपना जल प्राप्त करती हैं। सामान्यतः पर्वतीय भागों को वाटर टावर के नाम से जाना जाता है तो वहीं यहां से निकलने वाली नदियों के सिस्टम को वॉटर टावर सिस्टम के नाम से जाना जाता है।
  • वर्तमान समय में जलवायु परिवर्तन के कारण एशिया, यूरोप, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका और लगभग सम्पूर्ण विश्व में यह वाटर टावर सिस्टम संकुचित होते जा रहा है।
  • एशिया में Indus, Tarim, Amu Drya, Syr Darya Ganges Brahmaputra आदि वाटर सिस्टम संकुचित हो रहे है।
  • यूरोप में Rhone, Rhine, Block sea North Coast, Caspeon Sea Coast
  • उत्तरी अमेरिका में Fraser, columbia उत्तर-पश्चिम USA एवं प्रशांत क्षेत्र तथा आर्कटिक क्षेत्र
  • दक्षिण अमेरिका - दक्षिणी चिली, दक्षिणी अर्जेटिना, Negro वर्ष 2020 में एशियन इकॉनमी पूरी विश्व में इकॉनमी से बड़ी होगी
  • यह बात वर्ल्ड इकॉनमिक फोरम की रिपोर्ट में कही गई है।
  • एशिया दुनिया का सबसे बड़ा एवं अधिक आबादी वाला महाद्वीप है जो स्थलीय भाग का लगभग 30 प्रतिशत एरिया कवर करता है।
  • यहां 4-5 बिलियन लोग रहते हैं जो दुनिया की आबादी का 60 प्रतिशत है।
  • वर्तमान समय में चीन, भारत और आसियान देशो की वृद्धि दर काफी तेज है जिसके एशिया की आर्थिक स्थिति काफी मजबूत हुई है।
  • वैश्विक हिस्सेदारी वर्तमान समय में चीन की 18-58%, भारत की 7.69% एवं जापान की 4.02% एवं रूस का 2.92 % है।
  • USA की हिस्सेदारी 15.02% है।
  • 2024 तक एशिया का हिस्सा बढ़कर 60% हो जायेगा इससे एक प्रमुख भूमिका समेकित एशिया की होगी। वर्तमान समय में हिस्सेदारी लगभग 50% है।
  • तुर्की, सऊदी अरब, इण्डोनेशिया, दक्षिण कोरिया, हांगकांग, ईरान, ताइवान, सिंगापुर प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं हैं। जिससे एशियन इकॉनमी को गति मिल रही है।