Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 15 January 2020


Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 15 January 2020



SHOPPER MALWARE

  • मालवेयर का अर्थ ऐसे सोफ्टवेयर से है जो नुकसान पहुँचाता है।
  • यह कइ प्रकार का होता है। कुछ डेटा चोरी करते हैं, फोन को लॉक कर देते हैं और उसे चालू करने के एवज में पैसे की डिमांड करते हैं आदि।
  • ट्रोजन भी एक मालवेयर होता है। इसका निर्माण किसी डिवाइस या सिस्टम को क्पेतनचज करने, डेटा चोरी करने या किसी तरह का मनचाहा नुकसान पहुंचाने के लिए किया जाता है।
  • यह मोबाइल या किसी डिवाइस में कुछ डाउनलोड या इंस्टाल करते समय और कई बार सर्फिग करते समय प्रवेश कर जाता है।
  • एक बार प्रवेश करने के बाद यह किसी सिस्टम या फाइल का रूप धारण कर लेता है जिससे यह लंबे समय तक छिपा रहता है।
  • यह मालवेयर Shopping App की रेटिंग, इंस्टालेशन और Ads का प्रसार कर रहा है। इस लिए इसे Shopper Malware नाम दिया गया है।
  • यह मालवेयर रूस, ब्राजील भारत में व्यापर रूप से पहुँच चुका है।
  • भारत में ही 14% सेलफोन तक यह पहुँच चुका है।
  • यह मोबाइल में प्रवेश कर सिस्टम या फाइल का रूप लेता है, उसके बाद यह फेसबुक, गुगल आदि तक पहुँच बनाकर विभिन्न कंपनियों के प्रोडक्ट को रिव्यु, रेटिंग देना प्रारम्भ कर देता है।
  • जो लोग गुप्त रिव्यु देते हैं यह उन्हे यह सुविधा दे सकता है कि वह कैसे किसी व्यक्ति के अनुमति के रिव्यु प्रदान कर सकते हैं।
  • यह Google Play Protect के विकल्प को बंद कर सकता है। जिससे व्यक्ति गलत फाइल सामने आयेंगी और व्यक्ति इंस्टाल कर उसका शिकार हो जायेगा।
  • यह फेक न्यूज का भी प्रसार सोशल साइट्स के एकाउंट पर कब्जा कर सकते हैं।

साइबर अपराध से निपटने के भारत के प्रयास

  • सूचना प्रोद्यौगिकी अधिनियम 2002 एवं भारतीय दंड संहिता के प्रावधान
  • सरकार द्वारा राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा नीति, 2013 जारी किया गया है, इसके तहत सरकार अति संवेदनशील सूचनाओं के संरक्षण के लिए राष्ट्रीय अति संवेदनशल सूचना अवसंरचना संरक्षण केन्द्र (NCIIPC) का गठन किया गया है।
  • कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पोन्स टीम ( CERT-IN)की स्थापना की गई है।
  • अंतर ऐजेंसी समन्वय के लिए भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र की स्थापना की गई है।
  • चुनौतियाँ ?
  • भविष्य की रणनीति क्या होनी चाहिए ?

शंघाई को ऑपरेशन आर्गनाइजेशन के आठ अजूबों की लिस्ट में शामिल हुआ Statue Of Unity

  • चीन, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान और ताजिकिस्तान ने आपस में एक दूसरे के नस्लीय और धार्मिक तनावों से निपटने में सहयोग करने के उद्देश्य से 26 अप्रैल 1996 को चीन के शंघाई में एक बैठक आयोजित हुई। इसे शंघाई- 5 के नाम से जाना गया।
  • 2001 में यह शंघाई सहयोग संगठन के रूप में परिवर्तित हो गया।
  • 2005 में भारत, पाकिस्तान, ईरान, मंगोलिया ने पर्यवेक्षक राष्ट्र के रूप में इसमें हिस्सा लिया।
  • जून 2017 में भारत एवं पाकिस्तान को स्थाई सदस्यता दे दी गई।
  • वर्तमान समय में इसके 8 सदस्य देश हैं. भारत, पाकिस्तान, चीन, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान है।
  • इन देशों ने “ 8 Wonder Of Sco” नामक एक लिस्ट जारी किया है जिसमें स्टेच्यू ऑफ यूनिटी भी शामिल है।
  • इससे आपसी देशों के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।
  • SOU को प्रतिस्पर्धा के आधार पर नहीं बल्कि भारत सरकार द्वारा नोंमिनेशन के लिए भेजे गये प्रस्ताव पर शामिल किया गया है।
देश नाम
कजाकिस्तान Archaeological Complex Tomgaly
चीन The Imperial Palace Of Damien
किर्गिस्तान Lake Issyk-kul
पाकिस्तान The Heritage Of The Great Mughal ( Lahore)
रूस Golden Ring
ताजिकिस्तान Palace Navruz- Dushanbe
उज्वेकिस्तान Po-i-Kalan Complex

NORTH EAST GAS GRID PROJECT

  • इस गैस ग्रिड प्रोजेक्ट के लिए केबिनेट द्वारा 5500 करोड़ रूपये की Viability Gap Funding का अनुमोदन प्रदान कर दिया गया है।
  • यह प्रोजेक्ट Indradhanush Gas Grid Limited द्वारा पूरा किया जायेगा।
  • इस ग्रिड में गैस की सप्लाई करने के लिए पाइपलांइन बिछाया जा रहा है जो 8 राज्यों में गुजरेगी।
  • यह राज्य अरूणांचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेंघालय, मिजोरम, नागालैण्ड, सिक्किम एवं त्रिपुरा है।
  • इस पाइप की लंबाई 1656 KM है, जिसे कुल अनुमानित खर्च 9265 करोड़ रूपये है।
  • कुल अनुमानित खर्च का 60% VGF के माध्यम केन्द्र सरकार द्वारा वहन किया जायेगा।
  • ऐसे प्रोजेक्ट जिसका फायदा आय जनमानस को अधिक होने की उम्मीद है लेकिन लागत वहनीय नहीं है अर्थात उस प्रोजेक्ट से वह राशि निकाली नहीं जा सकती है तो सरकार उसमें जो पैसा खर्च करती है या अपना हिस्सा देती है उसे VGF के नाम से जाना जाता है।
  • 40% खर्च इंद्र धनुष गैस ग्रिड लिमिटेड द्वारा किया जायेगा।
  • इस पाइपलाइन घरेलू सेटर, इण्डस्ट्रियल सेक्टर, परिवहन सेक्टर आदि को फायदा होगा जिससे औद्योगिक रूप से पिछले पूर्वोत्तर में ग्रोथ बढ़ सकेगी।
  • इस पाइपलाइन को गैस की प्राप्ति ळ।प्स् के बरौनी- गुहावटी पाइपलाइन से प्राप्त होगी। यह पाइपलाइन प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा का भाग है। जो जगदीशपुर हल्दिया. बोकारों को जोड़ती है।
  • IIGL 5 सेंट्रल पब्लिक सेक्टर की कंपनियों का ज्वाइंट बेंचर है। यह कंपनियाँ IOCL, ONGC, Oil, India Limited और नुमालीगढ़ रिफाइनरी लिमिटेड है।