Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 08 March 2020


Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 08 March 2020



हिंद महासागर आयोग में भारत पर्यवेक्षक राष्ट्र

  • हिंद महासागर आयोग ( Indian Ocean Commission ) एक अंतर- सरकारी संगठन है जो दक्षिणी- पश्चिमी हिंद महासागर क्षेत्र में बेहतर सागरीय अभिशासन की दिशा में कार्य करता है !
  • दरअसल यह आयोग पश्चिमी हिंद महासागर के द्वीपीय राष्ट्रों को
  • सामूहिक रुप से समृद्धि एवं संपन्नता के साथ कार्य करने के लिए एक मंच प्रदान करता है !
  • इस आयोग में रियूनियन , मॉरीशस, मेडागाकर, कोमोरोस और सेशल्स शामिल है !
  • इस आयोग के चार पर्यवेक्षक - यूरोपीय यूनियन, चीन, इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ लॉ फ़्रांसोफोनी और माल्टा है ! भारत को भी हाल ही में हिंद महासागर आयोग ( Indian Ocean Commission ) कि सेशल्स मे हुई मंत्री स्तरीय बैठक में पर्यवेक्षक राष्ट्र के रूप में शामिल किया गया !
  • पश्चिमी हिंद महासागर ( The Western Indian Ocean - WIO ) क्षेत्र अफ्रीका महाद्वीप के दक्षिण- पूर्व में स्थित वह क्षेत्र है जहां कुछ महत्वपूर्ण द्वीपीय देश हैं बल्कि यह क्षेत्र अटलांटिक महासागर को कनेक्ट करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है !
  • यहां पर स्थित मोंजाबिक चैनल एक प्रमुख चेक पॉइंट तथा पूर्वी अफ्रीका के देशों को यूरोप से जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है !
  • क्षेत्र इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह इस आयोग के सदस्य देशों के Exclusive Economic Zone - (EEZ) अर्थात अनन्य आर्थिक क्षेत्र में शामिल होता है !
  • आपसी व्यापार और विवाद निपटान के दृष्टिकोण यह क्षेत्र काफी महत्वपूर्ण है !
  • इस आयोग में भरत का शामिल होना इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हिंद महासागर का सबसे बड़े उपयोगकर्ता में से एक है !
  • हिंद महासागर में शांति स्थापित करने , बढ़ते व्यापार को सुचारू रूप से चलाने में, बाहरी हस्तक्षेप को कम करने के लिए भारत की यह दूरगामी पहल है !
  • इस क्षेत्र में फ्रांस की उपस्थिति बहुत मजबूत है इसलिए भारत का इसमें शामिल होने की वजह से फ्रांस के साथ निकटता बढ़ेगी तो साथ ही चीन के हस्तक्षेप को नियंत्रित करना आसान होगा !
  • लैटिन अमेरिकी देशों के साथ व्यापार के Point of View सेठ जी यह क्षेत्र भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है !
  • भारत की सागर पहल- क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा और विकास की नीति का ही यह एक हिस्सा है !
  • चीन इस क्षेत्र में ग्वादर ( पाकिस्तान), हंबनटोटा ( श्रीलंका) और जिबूती में सैनिक केंद्र स्थापित कर भारत को अनेक प्रकार से घेरने का प्रयास कर रहा है इस तरह यह कदम भारत की सुरक्षा के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है !
  • गल्फ देशों में जिस तरह अशांति उत्पन्न हुई है और अमेरिका चीन हित जिस तरह से टकरा रहा है इससे यह क्षेत्र भारत के लिए और महत्वपूर्ण हो गया है !
  • अमेरिका अपनी फौज को जिस तरह वापस अपने देश में ले जा रहा है ऐसे में भारत के उपस्थिति क्षेत्र की शांति को मजबूत करेगी !
  • Indian ocean Commission एक inter governmental organisation है जिसकी स्थापना 1982 में हुई !
  • इसके निम्नलिखित objective है -
  • Political and diplomatic Cooperation
  • Economic and commercial Cooperation
  • Sustainable development in in globalisation contact
  • Strengthening of regional cultural identity, Cooperation in cultural, scientific, technical, educational and judicial Fields

विशेष ग्राम सभा और महिला सभा

  • प्रत्येक साल 8 मार्च को International Women's Day के रूप में मनाया जाता है !
  • इस साल महिला दिवस की थीम I am Generation Equality Realizing Women's Rights रखा गया है ! इसका 8 महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना और जेंडर समानता की बात को आगे रखना है !
  • 19609 में अमेरिका में पहली बार 28 फरवरी महिला दिवस मनाया गया था ! बाद में 8 मार्च को पूरे विश्व में मनाया जाने लगा !
  • केंद्र सरकार ने 8 मार्च 2020 को अंत अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को ग्राम पंचायत में विशेष ग्रामसभा और महिला सभा का आयोजन करने का निर्देश दिया है !
  • इसके साथ-साथ सभी ग्राम पंचायतों को 8 से 22 मार्च 2020 तक महिला और बाल विकास मंत्रालय के कार्यक्रम के अनुसार पोषण पखवाड़ा आयोजित करने का भी निर्देश दिया गया है !
  • विशेष ग्राम सभाओं और महिला सभाओं का आयोजन आंगनवाड़ी, आशा, सखी आदि के सहयोग और समन्वय से किया जाएगा !
  • विशेष ग्राम सभा में महिलाओं से संबंधित मुद्दों जैसे लड़की के जन्म को उत्साह पूर्वक मनाने, प्रसव के पूर्व और दौरान नवजात और महिला का देखभाल, लिंग निर्धारण जांच पर प्रतिबंध आदि मुद्दों पर विचार विमर्श किया जाएगा !
  • इसके साथ- साथ बच्चियों को पोस्टिक आहार तथा टीकाकरण उनका उचित देखभाल, सुरक्षित माहौल प्रदान करना, स्कूली शिक्षा पूरी करने आदि मुद्दों पर चर्चा एवं प्रोत्साहन पर विचार विमर्श किया जाएगा !
  • ग्राम सभा के आयोजन के माध्यम से पोषण पंचायत, भूमि अधिकार, शिक्षा स्वास्थ्य आदि विषयों को विचार विमर्श में शामिल किया जाएगा !
  • दोनों आयोजनों के माध्यम से महिला अधिकारों में वृद्धि, उनके खिलाफ होने वाली हिंसा को रोकने, ग्राम पंचायत में निर्वाचित महिला की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित कराने का प्रयास किया जाएगा !
  • स्थानीय शासन को महत्व प्रदान करने के लिए 73वें एवं 74 वें संविधान संशोधन के माध्यम से अनेक विधिक और स्थानीय काम इन संस्थाओं को सौपे गए हैं !
  • महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए पंचायतों में महिलाओं को 1/3 आरक्षण दिया गया है ! जिसे 20 राज्यों ने अपने क्षेत्र में बढ़ाकर 50% कर दिया है !
  • वर्तमान समय में 30.41 लाख निर्वाचित प्रतिनिधियों में से 45.2% (13.74 लाख) महिलाएं हैं !
  • 11वीं अनुसूची- इसने पंचायतों के कानून क्षेत्र के साथ 29 प्रकार्यात्मक विषयवस्तु समाहित है !
  • पशुपालन, दुग्ध व्यवसाय तथा मत्स्य पालन
  • लघु वन उत्पत्ति
  • लघु उद्योग, जिसमें खाद्य उद्योग सम्मिलित है !
  • खादी, ग्राम एवं कुटीर उद्योग !
  • ग्रामीण विकास !
  • पीने वाला पानी !
  • ईंधन तथा पशु चारा !
  • गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम !
  • प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा संबंधी विद्यालय !
  • यांत्रिक प्रशिक्षण एवं व्यवसायिक शिक्षा !
  • स्वास्थ्य एवं स्वास्थ्य संबंधित संस्थाएं जिन्हें अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तथा दवाखाने शामिल है !
  • पारिवारिक समृद्धि !
  • महिला एवं बाल विकास !