Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 08 January 2020


Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 08 January 2020



TULU LANGUAGE

  • भाषा किसी क्षेत्र, समूह, देश की न सिर्फ पहचान होती है बल्कि यह सामाजिक विकास की एक पूर्ण अवस्था होती है।
  • सामान्यतः छोटे क्षेत्र एवं देश में एक या दो भाषाएं होती है लेकिन बड़े देशों में अनेकों भाषाएं एवं बोलियाँ होती हैं।
  • भाषाएं एवं बोलियाँ किसी देश में जितनी समृद्ध एवं पसस्पर घनिष्ठ हाती है क्षेत्र, देश का विकास उतना ही तेजी से होता है।
  • 2001 की जनगणना के अनुसार हमाने देश में 30 ऐसी भाषाएं है जो 10 लाख से अधिक लोगों द्धारा बोली जाती है।
  • 122 भाषाएं ऐसी है जिन्हें 10 हजार से अधिक लोगों द्वारा बोला जाता है।
  • इसके अलावा लगभग 1600 बोलियाँ भी हैं। इनमें से बहुत सी लुप्त होने के कगार तक पहुँच गई है।
  • भारत जैसे सामासिक सांस्कृतिक वाले देश के लिए इनका संरक्षण आवश्यक है।
  • संविधान का अनुच्छेद 29 सभी नागरिकों को अपनी भाषा, संस्कृति का संरक्षण करने का अधिकार प्रदान करता है।
  • इस अनुच्छेद का निहितार्थ यह है कि राज्य और नागरिक दोनों इनका संरक्षण करने का प्रयास कर सकते हैं।
  • संविधान की 8वीं अनुसूची में 22 भाषाओं को जगह दी गई है।
  • बहुत से समीक्षक इनके चयन के मापदंडों पर भी प्रश्न उठाते हैं। इनका कहना है कि संस्कृत मात्र 24821 लोगों द्वारा बोली जाती है, इसे शामिल किया गया है तो दूसरी तरफ बहुत सी भाषाएं जो बहुत से लोगों द्वारा बोली जाती है लेकिन वह शामिल नहीं है।
  • Bhili Bhilodi एक करोड़ से अधिक लोगों द्वारा बोली जाती है।
  • गोंडी को लगभग 30 लाख, गारों को लगभग 11.5 लाख, खंडेसी को लगभग 19 लाख, खासी को लगभग 14 लाख लोगों द्वारा बोला जाता है।
  • कर्नाटक के एक हिस्से में तुलु भाषा बोली जाती है। कुछ लोग इसके साथ भेदभाव का आरोप लगा रहे हैं।
  • इस भाषा को बोलने वाले लोगों की संख्या 1846427 है।
  • यह द्रबीड़ियन परिवार की सबसे संपन्न भाषाओं में से एक है।

शामिल होने के फायदे ?

  • साहित्य अकादमी से प्रमाणिकता प्राप्त हो जायेगी और इस भाषा की किताबें अन्य भाषाओं में ट्रांसलेट होने लगेंगी।
  • MP एवं MLA अनली इस भाषा में स्पीच दे सकेंगे।
  • परीक्षार्थी इस भाषा में परीक्षा दे सकेंगे।

SARAS MK-2

  • यह 19 सीटों वाला एक विमान है। जिसका प्रयोग नागरिक परिवहन, सामान ले जाने एवं रिमोट सेटिंग अभियानों के लिए किया जा सकता है।
  • राष्ट्रीय एयरोस्पेस प्रयोगशाला (NAL) ने सरकार से इसको व्यावसायिक रूप उपयोगी बनाने का आग्रह किया है।
  • यह भारत का पहला Multi Purpose सिविलियन एयरक्राफ्ट है।
  • इस प्रोजेक्ट का सर्वप्रथम प्रारंभ 1999 में किया गया था।
  • इसके पहले नमूने को 2004 में प्रदर्शित किया गया था।
  • 2009 में परिक्षण के दौरान यह क्रैश हो गया था, इसक कारण इस प्रोजेक्ट को बंद कर दिया गया था।
  • 2017 में इस प्रोजेक्ट को फिर से Revived किया गया।
  • यह दिन और रात दोनों में काम कर सकता है।
  • घास वाले रनबे पर भी यह टेक-ऑफ और लैंड कर सकता है।
  • यह 425.550 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से लगातार 5 घंटे तक चल सकता है।
  • टियर-1, टियर-2 और टियर -3 शहरों को जोड़ने में यह बेहद कारगर होगा।
  • 2024 में यह भारतीय वायुसेना बेड़े में शामिल हो सकता है। जिसका प्रयोग सेना की टुकड़ियों को ले जाने, VIP परिवहन एवं आपातकालीन परिस्थितियों में किया जा सकता है।
  • आगे चलकर इस एयरक्राफ्ट को 70 से 90 सीटों के लिए उपयोगी बनाया जा सकता है।

OXYGEN PARLOUR

  • वायु प्रदूषण से निपटने के एक विकल्प के रूप में इसे देखा जा रहा है।
  • इसे नाशिक रेलवे स्टेशन पर खोला गया है।
  • इस इनीशियटिव का प्रारंभ Airo Gourd और रेलवे द्वारा किया गया है।
  • 1989 में NASA ने एक अध्ययन में यह पाया कि कुछ ऐसे पौधे हैं जो तेजी से प्रदूषण को सोख (अवशोषित) कर लेते हैं।
  • नाशिक में इसी प्रकार के 1500 पौधे लगाये है।
  • Dwarf Data Palm, Boston Fern, English Lvy, Bamboo Palm, Weeping Fig आदि प्रयोग किये गये इसी प्रकार के पौधे हैं।
  • हमें ज्ञात है वायु प्रदूषण तीसरा प्रमुख कारण है मौत का इस प्रकार के आइडिया से हम वायु प्रदूषण से लड़ने का प्रयास कर सकते हैं।
  • जीवन प्रत्यासा में 2.6 वर्ष की कमी होने की रिपोर्ट सामने आई है।
  • Oxygen Bar नामक सर्विस सेंटर दिल्ली में खुला है। इसका नाम Oxygen Pure है।
  • इस प्रकार के बिजनस आइडिया बढ़ रहे हैं।