Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 06 November 2019


Daily Current Affairs for UPSC, IAS, State PCS, SSC, Bank, SBI, Railway, & All Competitive Exams - 06 November 2019



ASEAN (एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशंस)

  • ASEAN- INDIA SUMMIT, ASEAN SUMMIT, EAST ASIA SUMMIT, RCEP (रीजनल कॉम्प्रिहेंसिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप)
  • आसियान सम्मिट वर्ष में 2 बार आयोजित किया जाता है। सामान्यत% दोनो सम्मेलन एक ही देश में होते हैं। एक अप्रैल- मई में जबकि दूसरा नवंबर दिसम्बर में
  • 2017 - 30 वाँ, 31 वाँ (फिलिपींस)
  • 2018 - 32 वाँ, 33 वाँ सिंगापुर
  • 2019 - 34 वाँ (20-23 जून) , 35 वाँ (31 अक्टूबर - 4 नवम्बर) - थाइलैण्ड
  • आसियान सम्मेलन के साथ इसके देश अन्य देशों के साथ अपने सम्बन्ध मजबूत करने के लिए अन्य सम्मेलन भी करवाते हैं। आसियान . भारत, रूस, चीन, US
  • 35 वाँ आसियान सम्मेलन - थीम. एडवांसिंग पार्टनरशिप फॉर सस्टेनबिलिटी
  • प्रधानमंत्री के लिए एक इवेंट - बैंकाक - Sawasdee PM Modi ( अभिवादन)
  • भारत के प्रवासी लोगों के लिए।
  • India’s Relations - 3CS - कल्चर, कॉमर्स, कनेक्टिविटी
  • भारत आसियान व्यापार 2018 - 19, 96.79$ Bn
  • भारत के कुल व्यापार का लगभग 11.6%
  • Look East Policy का केंद्र ।Act East Policy
  • भारत एवं आसियान ळक्च् GDP $ 5 T
  • Quad Meeting- अनौपचारिक संगठन आस्ट्रेलिया, जापान, इंडिया, USA
  • ASEAN एसोसिएशन ऑफ साउथईस्ट एशियन नेशंस
  • 8 अगस्त, 1967 को बैंकॉक (थाइलैण्ड) में बैंकॉक घोषणा से स्थापना हुई।
  • यह राजनीतिक एवं आर्थिक संगठन है।
  • मुख्यालय . जकार्ता (इंडोनेशिया)
  • संस्थापक सदस्य INP, MLS, FLP, SNGP, THL
  • अन्य 5 ब्रुनेई, कंबोडिया, लाओस, म्यामार, वियतनाम

उद्देश्य

  • आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक विकास, क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता
  • MOTO- (आदर्श वाक्य) एक दृष्टि, एक पहचा़न, एक समुदाय
  • प्रथम सम्मेलन. बाली (इंडोनेशिया) 1976
  • भारत एवं ASEAN के बीच मुक्त व्यापार समझौता है।

East Asia Summit -14वाँ

  • स्थापना 2005
  • एशिया. प्रशांत क्षेत्र के 18 देशों (10 आशियान देश, 8 आस्ट्रेलिया, चीन, इंडिया, जापान, न्यूजीलैण्ड, द. कोरिया, रूस, USA) का समूह
  • क्षेत्रीय शांति, सुरक्षा एवं संपन्नता
  • India – Asean सम्मिट - 16 वाँ
  • सामुद्रिक साझेदारी, व्यापार एवं निवेश, कनेक्टिविटी, विज्ञान, विज्ञान तकनीकी तथा नवाचार को बढ़ावा
  • First Asean – India Summit- 2001
  • क्वैड (Quad or QSD) क्वाड्रिलेटरल सिक्योरिटी डायलॉग अनौपचारिक बातचीत का मंच

उद्देश्य

  • सामाजिक मुद्दे, क्षेत्रीय विकास, शांति
  • प्रारम्भ - 2007
  • जापान के PM शिंजोअबे के द्वारा
  • देश  USA, JAPAN, INDIA, AUSTRALIA
  • कार्य - बहुउद्देशीय परियोजनाओं का निर्माण, सैन्य अभ्यास।

क्या है समुद्री प्रदूषण

  • महासागर में प्रदूषक तत्वों के प्रवेश को समुद्री प्रदुषण कहते हैं।
  • जहाजों से रिसाव के कारण निकला तेल, सीवेज, अपमार्जक, रेडियो एक्टिव, अपशिष्ट, भारी धातुएँ, अपतटीय तेल खनन आदि से भी समुद्री जल प्रदूषित होता है।
  • प्लास्टिक प्रदूषण में सिंगल यूज प्लास्टिक का सबसे बड़ा योगदान है।
  • गहरे समुद्र में सूर्य का प्रकाश नहीं पहुँचने और कम तापमान होने के कारण वहाँ जमा हुई प्लास्टिक के निम्नीकरण की दर बहुत कम होती है।
  • हल्के प्लास्टिक समुद्र में तैरते रहते हैं। समुद्री जलधाराओं के मदद से प्लास्टिक गेर बनाते हैं, जैसे हवाई एवं कैलिफोर्निया के बीच ग्रेट पैसिफिक गार्वेज पैच में महासागरीय प्लास्टिक का बहुत बड़ा जमाव पाया जाता है। एक बार इनके बीच में प्लास्टिक आ जाने पर तब तक नहीं निकल पाते जब तक सूर्य की किरणें माइक्रो प्लास्टिक में ना बदल दें - डपबतव ठपके कहा जाता है।
  • Micro Bids आकार 5 मिली मी. ऑखों से नहीं देखा जा सकता (इस्तेमाल - Beauty Products Etc)

समुद्री प्रदूषण बढ़ने के कारण.

  • हर साल दुनिया भर में 300 मिलियन टन से ज्यादा प्लास्टिक का उत्पादन, हर साल 8 मिलियन टन से ज्यादा प्लास्टिक कचरे समुद्र में विसर्जित होते है। 80% समुद्री मलवे के रूप में जम जाते हैं।
  • मछली पकड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाले जाल यानि Ghost Gear (2011 - 2018 तक 600 समुद्री कछुए मालदीव के पास जाल में फंसे मिले ) भी बढ़ा रहे हैं प्रदूषण।
  • गहरे सागर में सी माइनिंग से समुद्र तल में भारी धातुओं के जमा होने से समुद्री प्रदूषण में इजाफा।
  • अंतरिक्ष से भी प्रदूषण फैलता है - उल्कापिंड, कल पुर्जों आदि।

समुद्री प्रदूषण का प्रभाव

  • तेल रिसाव समुद्री जीवों के गिल्स और पंखों पर परत बनाकर उनकी गति और सॉस लेने की प्रक्रिया को बाधित करते हैं - कोरल रीफ प्रभावित, O2 का स्तर गिर जाता है। समुद्री जीवों की प्रजनन क्षमता घट जाती है।
  • समुद्री जीवों को खाने से मनुष्य जीवन पर बुरा प्रभाव
  • प्लास्टिक से रिसने वाले खतरनाक रसायनों के कारण या फिर रेस्पिरेटरी सिस्टम में प्लास्टिक के चोक होने से मर जाते हैं समुद्री जीव
  • मछली पकड़ने वाले जाल समुद्री जीवों को चोटिल करने के साथ ही प्रवाल भित्तियों को भी पहुँचाते है नुकसान

अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय प्रयास

  • G20 देशों के द्वारा महासागरीय कचरे पर G20 ।बजपवद च्संद वद डंतपदम स्पजजमत अपनाया
  • विश्व पर्यावरण दिवस 2018 की थीम. Beast Plastic Pollution
  • विश्व पर्यावरण दिवस 2019 की थीम Air Pollution
  • ष्ठसनम थ्संहष् कार्यक्रम का आयोजन Foundation For environment Education द्वारा चलाया जा रहा है।
  • UN Environment द्वारा Clean Sea Campaign शुरू किया गया है।
  • भारत एवं नार्वे सरकार द्वारा India – Narvay Marine Pollution Initative पर समझौता

Mission Blue – 2009

  • Sylvia Alice Earle
  • स्थलीय - क्षेत्र की जैवविविधता लगभग 15: भाग पर किया जाता हैं।
  • सागरीय . महासागरीय क्षेत्र का 3: से भी कम भाग संरक्षण किया जा रहा है। 2009
  • 2020-20% संरक्षण का लक्ष्य
  • Hope- Spot
  • MPA- Marine Protected Areas

पेरिस समझौता

  • 12 Dec. 2015 को पेरिस जलवायु परिवर्तन समझौता हुआ।
  • धरती का तापमान 2030 तक औद्योगिक स्तर के मुकाबले 1.5 डिग्री से ज्यादा न बढ़ने देने का लक्ष्य रखा गया।
  • 197 देश मार्च 2019 तक हस्ताक्षर कर चुके, 187 देशों ने अमल करना शुरू कर दिया।

ओबामा प्रशासन

  • अमेरिका ने 2015 में हस्ताक्षर किया जलवायु परिवर्तन पर
  • 2025 तक 26 से 28 प्रतिशत कार्बन उत्सर्जन में कमी लाने की कवायद

भारत का पक्ष

  • 2 अक्टूबर 2016 को भारत पेरिस समझौते से जुड़ा।
  • GHG के उत्सर्जन 4% हिस्सेदारी, तीसरे स्थान पर कार्बन उत्सर्जक में
  • कार्बन उत्सर्जन में 30.35% कटौती 2030 तक लक्ष्य
  • पेट्रोल डीजल के अलावा 40% फीसदी ऊर्जा अन्य स्रोतों से उत्पादन का लक्ष्य 2030 तक

अमेरिका पेरिस समझौते का हिस्सा नहीं रहेगा

  • अमेरिका ने समझौता पर 2016 मे हस्ताक्षर किया था।
  • संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस दृ पेरिस समझौते के अनुच्छेद 28 के अनुसार लिखित सूचना देकर कोई देश एक साल बाद समझौते से बाहर जा सकता है।
  • अमेरिका विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने बताया कि अमेरिका ने पेरिस समझोते से अलग होने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
  • पहले की तरह अमेरिका उत्सर्जन को घटाते हुए शोध, नवाचार और अर्थव्यवश्था को बढ़ाने का काम जारी रखेगा।
  • पेरिस समझौते को वर्ष 2015 में फ्रांस की राजधानी में संयुक्त राष्ट्र के जलवायु सम्मेलन COP 21 में अपनाया गया था।
  • स्पेन में Dec. 2019 में जलवायु परिवर्तन वार्ता होगी।

जलवायु परिवर्तन पर टकराने की आशंका

  • जलवायु परिवर्तन पर अमेरिकी कदम के बाद चीन, यूरोपीय संघ, जैसे देश भी जवाबी कदम उठा सकते हैं। आस्ट्रेलिया, ब्राजील संधि से हटने की धमकी दे चुका है।

अस्तित्व का खतरा

  • 4.5 इंच बढ़ जायेगा समुद्र का जलस्तर 2030 तक
  • 20 फीसदी बढ़ जायेगी ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन
  • 29 करोड़ को झेलना होगा विस्थापन जलस्तर बढ़ने से
  • 03 गुना बढ़ेगा सूखा, बाढ़ जैसी आपदाओं का खतरा