यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: फाइव स्टार गाँव योजना (Five Star Villages Scheme)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स ब्रेन बूस्टर (Current Affairs Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): फाइव स्टार गाँव योजना (Five Star Villages Scheme)

फाइव स्टार गाँव योजना (Five Star Villages Scheme)

चर्चा का कारण

  • हाल ही में डाक विभाग ने देश के ग्रामीण क्षेत्रें में प्रमुख डाक योजनाओं का सार्वभौमिक कवरेज सुनिश्चित करने के लिए, फाइव स्टार गांवों के नाम से एक योजना शुरू की है।

क्या है फाइव स्टार गांव योजना

  • य ह योजना विशेष रूप से सुदूरवर्ती गांवों में जन जागरूकता और डाक उत्पादों और सेवाओं तक पहुंचने की खाई को पाटने का प्रयास करेगी। यह योजना महाराष्ट्र में प्रारंभिक आधार पर शुरू की जा रही है।

योजना का महत्व

  • ध्यातव्य है कि भारतीय डाक कोविड-19 की वजह से उत्पन्न कठिन स्थिति में लोगों तक दवाइयाँ और वित्तीय सहायता पहुंचाकर उनकी असाधारण रूप से सेवा कर रहा है।
  • डाक विभाग अपने विशाल नेटवर्क का लाभ उठाते हुए, सरकारी योजनाओं के कार्यान्वयन में एक प्रमुख भूमिका निभा रहा है। डाक योजनाओं को अत्यधिक सुरक्षित जमा प्रदान करने के लिए जाना जाता है, वे कम जोखिम के साथ अधिक ब्याज की वापसी प्रदान करते हैं।
  • आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य को हकीकत में बदलने के लिए इस तरह के सहयोगी प्रयासों के माध्यम से सही दिशा में कार्य हो सकता है , जिसमें वित्तीय समावेशन प्रदान करने के लक्ष्य के साथ विभिन्न योजनाओं को एक जगह पर एक साथ लाया गया हो।

योजना कार्यान्वयन दल

  • इस योजना को पांच ग्रामीण डाक सेवकों की टीम द्वारा कार्यान्वित किया जाएगा जिन्हें डाक विभाग के सभी उत्पादों, बचत और बीमा योजनाओं के विपणन के लिए एक गाँव सौंपा जाएगा।
  • इस टीम का नेतृत्व संबंधित शाखा कार्यालय के शाखा पोस्ट मास्टर करेंगे।
  • डाक निरीक्षक दैनिक आधार पर टीम की प्रगति पर व्यक्तिगत निगरानी रखेंगे।
  • टीमों का नेतृत्व और निगरानी संबंधित प्रभागीय प्रमुख, सहायक अधीक्षक डाक और निरीक्षक पदों द्वारा की जाएगी।

योजना का लाभ

  • ग्रामीण डाक सेवकों की टीम सभी पात्र ग्रामीणों को कवर करते हुए सभी योजनाओं के बारे में घर-घर जाकर जागरूकता अभियान चलाएगी।
  • शाखा कार्यालय के नोटिस बोर्ड पर सूचना प्रदर्शित करके व्यापक प्रचार किया जाएगा।
  • पंचायत कार्यालयों, स्कूलों, ग्राम औषधालयों, बस डिपो, बाजारों जैसे लक्षित गांवों के प्रमुख स्थानों का उपयोग विज्ञापन के लिए भी किया जाएगा और पर्चे वितरित किए जाएंगे।
  • कोविड-19 सुरक्षा दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए छोटे मेलों का आयोजन किया जाएगा।