क्यों घट रही है PVTGs की आबादी?? (Why is Population of PVTGs Declining?) : ध्येय रेडियो (Dhyeya Radio) - ज्ञान की डिजिटल दुनिया

क्यों घट रही है PVTGs की आबादी?? (Why is Population of PVTGs Declining?) : ध्येय रेडियो (Dhyeya Radio)

क्यों घट रही है PVTGs की आबादी?? (Why is Population of PVTGs Declining?) : ध्येय रेडियो (Dhyeya Radio) - ज्ञान की डिजिटल दुनिया


नोट: यदि Desktop के Google Chrome में ऑडियो प्लेयर काम नहीं कर रहा है तो किसी अन्य Browser का उपयोग करें।


आम भाषा में जिन्हें दुलर्भ जनजातियां कहा जाता है उन्हें आधिकारिक तौर पर विशेषरूप से कमज़ोर/ संवेदनशील/ सुभेद्य जनजातीय समूह कहते हैं। अंग्रेज़ी में इन्हें पर्टिकुलरली वल्नरेबल ट्राइबल ग्रुप यानी PVTG कहा जाता है। गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक़ देशभर में 75 जनजातीय समूह पीवीटीजी के रूप में पहचाने गए हैं।

यह पीवीटीजी भारत के 18 राज्यों के अलावा अण्डमान और निकोबार द्वीप समूह में रहते हैं। इनके पहचान की अनुशंसा साल 1960-61 में गठित ढेबर आयोग ने की थी। क्या होते हैं पीवीटीजी और इन्हें बचाये रखने के लिए क्या प्रयास किये जा रहे हैं। सुनिये, ज्ञान की डिजिटल दुनिया ध्येय रेडियो के इस पॉडकास्ट में।

ध्येय रेडियो के अन्य पॉडकास्ट