(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : IBC (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2020 (The IBC (Second Amendment) Bill, 2020)


(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : IBC (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2020 (The IBC (Second Amendment) Bill, 2020)


विषय (Topic): IBC (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2020 (The IBC (Second Amendment) Bill, 2020)

अतिथि (Guest):

  • Dr. K.P. Kaushik, (Professor of Finance and Accounting, AJNIFM) (डॉ. के.पी. कौशिक, प्रोफेसर, वित्त और लेखा, AJNIFM)
  • Anoop Rawat, (Member, FICCI Stressed Assets Committee & Partner, Shardul Amarchand Mangaldas & Co) (अनूप रावत, सदस्य, फिक्की स्ट्रेस एसेट्स कमेटी)
  • Ajay Shankar, (Former Secretary, DIPP, Ministry of Commerce & Industry, GoI) (अजय शंकर, पूर्व सचिव, डीआईपीपी, भारत सरकार)

विषय विवरण (Topic Description):

संसद ने इस मॉंनसून सत्र में IBC कानून में संशोधन किया गया है, और फिर संसद के दोनों सदनों से दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता (दूसरा संशोधन) विधेयक, 2020 पास कर दिया गया. इन्सॉल्वेंसी का यह कानून ऐसी कंपनियों पर लागू होता था जो कि अपने कर्ज चुका पाने में असमर्थ थी और उनके खिलाफ इन्सॉल्वेंसी का प्रोसेस शुरू होता था. कोरोना काल के चलते सरकार ने इसके कुछ प्रावधानों को स्थगित किया हैं. इस नये संशोधन बिल के जरिये यह कहां गया है कि जो 25 मार्च के बाद की स्थिति है वह अगले 6 महीने तक किसी भी कंपनी के खिलाफ इन्सॉल्वेंसी का प्रोसेस शुरू नहीं किया जायेगा. इस संसोधन के जरिये मौज़ूदा कानून के धाराएं 7, 9, 10 को स्थगित करने का फैसला किया गया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा कि जुलाई 2020 तक दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता ने लगभग 258 कंपनियों को संकल्प योजनाओं के माध्यम से बचाया, बचाई गई कंपनियों में से एक तिहाई या तो पूरी तरह से बीमार थीं या दोषपूर्ण थीं. इस संहिता के तहत प्रक्रिया में 965 कंपनियों के परिसमापन का उत्पादन किया गया है. ऐसे में, इसकी जरुरत कोरोना काल में कितनी है, उद्योग जगत इसकी मांग कर रहा है, अलग अलग सेक्टर पर इसका क्या असर होगा और इसका फ़ायदा अर्थव्यवस्था पर क्या देख और उम्मीद कर सकते हैं.

Click Here for RSTV The Big Picture

पुरालेख (Archive) के लिए यहां क्लिक करें Click Here for Archive

Courtesy: RSTV