(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के लिए अध्यादेश (Ordinance to Protect Health Workers)


(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के लिए अध्यादेश (Ordinance to Protect Health Workers)


विषय (Topic): स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के लिए अध्यादेश (Ordinance to Protect Health Workers)

तिथि (Guest):

  • Dr. Vikram Singh, (Former DGP, Uttar Pradesh)
  • Dr. Rajan Sharma, (National President, Indian Medical Association)
  • Kapil Sankhla, (Advocate, Supreme Court)

विषय विवरण (Topic Description):

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने महामारी रोग अधिनियम 1897 के अंतर्गत डॉक्टरों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए महामारी रोग (संशोधन) अध्यादेश, 2020 जारी कर दिया है. इस विशेष केंद्रीय कानून की मांग इंडियन मेडिकल एसोसिएशन कई दिनों से कर रहा था. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महामारी रोग (संशोधन) अध्यादेश, 2020 को लागू करने की मंजूरी दे दी है. इस कानून के तहत आने वाले अपराध संज्ञेय और गैर-जमानती हो जाएंगे. यानी थाने से आरोपी को जमानत नहीं मिल सकेगी.ऐसे मामले की जांच वरिष्ठ इंस्पेक्टर के स्तर पर 30 दिन में पूरा करने और एक साल के भीतर अदालत में इसकी सुनवाई पूरी कर फैसला का प्रावधान कर दिया गया है. पहली बार इस कानून में राष्ट्रीय स्तर पर एक समान सजा का प्रावधान किया गया है. इसके तहत अपराध साबित होने पर आरोपी को तीन महीने से पांच साल तक सजा हो सकती है. साथ ही उसे 50 हजार से दो लाख तक जुर्माना भी देना पड़ सकता है. यदि हमले में स्वास्थ्य कर्मी गंभीर रूप से घायल हुआ तो उसी के अनुरूप सजा भी बढ़ जाएगी. ऐसे गंभीर मामले में छह महीने से सात साल तक सजा और एक लाख से पांच लाख रूपये तक जुर्माने का प्रावधान किया गया है. हमले के दौरान स्वास्थ कर्मी की संपत्ति के नुकसान की भरपाई आरोपी से कराने का प्रावधान भी किया गया है. यदि डाक्टर या स्वास्थ्य कर्मी के क्लीनिक या गाड़ी का नुकसान पहुंचाया गया, तो उसके बाजार मूल्य का दोगुना हमला करने वाले से भरपाई के रूप में वसूला जाएगा.

Click Here for RSTV The Big Picture

पुरालेख (Archive) के लिए यहां क्लिक करें Click Here for Archive

Courtesy: RSTV