(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : भारत- वियतनाम संबंध (India-Vietnam Relations)


(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : भारत- वियतनाम संबंध (India-Vietnam Relations)


विषय (Topic): भारत- वियतनाम संबंध (India-Vietnam Relations)

अतिथि (Guest):

  • Anil Trigunayat, (Former Ambassador) (अनिल त्रिगुणायत, पूर्व राजदूत)
  • Brig (Retd.) Vinod Anand, (Senior Fellow, VIF) (ब्रिगेडियर (रि.) विनोद आनंद, सीनियर फेलो, VIF)
  • Jayant Dasgupta, (Former Ambassador, WTO) (जयंत दासगुप्ता, पूर्व राजदूत, WTO)

विषय विवरण (Topic Description):

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन जुआन फुच के साथ ऑनलाइन वार्ता की। इस दौरान उन्होंने दोनों देशों के बीच व्यापक रणनीतिक साझेदारी पर ध्यान केंद्रित करने पर चर्चा की। वर्चुअल सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वियतनाम, भारत की एक्ट ईजी पॉलिसी का महत्वपूर्ण स्तंभ है और हमारी हिंद-प्रशांत क्षेत्र की योजनाओं का सशक्त भागीदार है। मोदी ने कहा, अगले साल हम दोनों ही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के सदस्य होंगे। इसलिए वैश्विक परिदृश्य में हमारे सहयोग की अहमियत और बढ़ेगी। हम द्विपक्षीय जुड़ाव की कार्य योजना के रूप में एक संयुक्त विजन डॉक्यूमेंट 2021-23 लागू करेंगे। उन्होंने कहा, हमने सात नए समझौतों पर दस्तखत किए हैं। इसमें वैज्ञानिक शोध, न्यूक्लियर और नवीनीकृत ऊर्जा, पेट्रोकेमिकल्स, डिफेंस और कैंसर का इलाज जैसे क्षेत्र शामिल हैं। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि हम अपने सामाजिक-सांस्कृतिक संबंधों को मजबूत करने के लिए नए कदम उठाएंगे। उधर, वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन जुआन फुच ने भारत और वियतनाम के संबंधों को लेकर पीएम मोदी की टिप्पणियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मैं इस वर्चुअल सम्मेलन के आयोजन पर काफी खुश हूं, जो हमारे द्विपक्षीय संबंधों को और गहरा करने के लिए दोनों देशों की प्रतिबद्धताओं को रेखांकित करता है। भारत और वियतनाम 2016 में अपने द्विपक्षीय संबंध को आगे बढ़ाकर समग्र रणनीतिक साझेदारी तक ले गए थे और रक्षा सहयोग इस तेजी से बढ़ते द्विपक्षीय संबंधों के अहम स्तंभों में एक रहा है..

Click Here for RSTV The Big Picture

पुरालेख (Archive) के लिए यहां क्लिक करें Click Here for Archive

Courtesy: RSTV