(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : जंगलों में आग : वजह और सावधानियां (Forest Fire : Reasons and Precautions)


(Video) राज्य सभा टीवी देश देशांतर Rajya Sabha TV (RSTV) Desh Deshantar : जंगलों में आग : वजह और सावधानियां (Forest Fire : Reasons and Precautions)


विषय (Topic): जंगलों में आग : वजह और सावधानियां (Forest Fire : Reasons and Precautions

अतिथि (Guest):

  • V. K. Dhawan, (Consultant, FRI, Dehradun) (वी. के. धवन, वन अनुसंधान संस्थान, देहरादून)
  • Dr. Yogesh Gokhale, (Senior Fellow, TERI) (डॉ. योगेश गोखले, सीनियर फेलो, TERI)

विषय विवरण (Topic Description):

उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग से जान-माल का नुकसान हो रहा है. जंगलों की आग बेकाबू होते जा रही है। इसके चारों तरफ धुआं फैल गया है। उत्तराखंड में जंगलों की आग विकराल हो गई। आग के जगह-जगह आबादी क्षेत्र तक पहुंचने से हड़कंप मचा रहा। वनकर्मी और ग्रामीण आग बुझाने में जुटे रहे। वन संपदा को भारी नुकसान हुआ है। वन्य जीव आबादी क्षेत्रों की ओर रुख करने लगे हैं। केंद्र सरकार ने उत्तराखंड सरकार पूरे सहयोग का आश्वासन दिया है। आग पर काबू पाने और जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने तुरंत एनडीआरएफ की टीमें और हेलीकॉप्टर उत्तराखंड सरकार को उपलब्ध कराने के निर्देश दे दिए हैं। अब तक आग से 37 लाख की संपत्ति को नुकसान हुआ है। उत्तराखंड में 1 अक्टूबर 2020 से जंगलों में आग की घटनाएं सामने आने लगी थीं। वन विभाग के अनुसार आग की अब तक उत्तराखंड में कुल 964 घटनाएं सामने आ चुकी हैं। इससे 1263.53 हेक्टेयर जंगल को नुकसान पहुंचा. आग बुझाने के लिए वन विभाग के 12000 गार्ड और फायर वॉचर लगे हैं। इंडिया स्टेट ऑफ फॉरेस्ट रिपोर्ट 2019 के मुताबिक भारत में 2019 में जंगलों में आग लगने के 30,000 से अधिक मामले सामने आए। 06 सालों में जंगलों में आग लगने के मामले 158 फीसदी बढ़े हैं। भारत के जंगल के 1/5 हिस्से में आग का खतरा है। ऐसे में, जंगलों में लगी आग से जीव-जन्तुओं की कई प्रजातियों की मौत होती है. गर्मियों में उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर के जंगलों में आग की घटनाएं होती हैं.

Click Here for RSTV The Big Picture

पुरालेख (Archive) के लिए यहां क्लिक करें Click Here for Archive

Courtesy: RSTV