यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़ (Daily Hindi Current Affair MCQ Quiz for UPSC/State PSC Exams) : 30, सितंबर 2021


यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़

(Daily Current Affairs MCQ Quiz for UPSC, IAS, UPPSC/UPPCS, MPPSC. BPSC, RPSC & All State PSC Exams)

तारीख (Date): 30, सितंबर 2021


प्रश्न 1. निम्नलिखित में से कौन सी सुरंग जम्मू कश्मीर में स्थित है ?

1. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सुरंग
2. जवाहर सुरंग
3. बनिहाल-काज़ीगुंद सुरंग
4. अटल सुरंग

A. 1, 2, 3
B. 2, 3, 4
C. 1, 3, 4
D. 1, 2, 3, 4

उत्तर: (A)

व्याख्या : श्यामा प्रसाद मुखर्जी सुरंग को चेनानी-नाशरी सुरंग (Chenani-Nashri Tunnel) के नाम से भी जाना जाता है। यह भारत की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग (9 किमी. लंबी) है। जबकि बनिहाल काज़ीगुंड सुरंग पीर पंजाल रेंज में 8.5 किमी. लंबी सड़क सुरंग (Road Tunnel) है।

जवाहर सुरंग को बनिहाल सुरंग या बनिहाल दर्रा भी कहा जाता है। इस सुरंग की लंबाई 2.85 किमी. है। यह सुरंग श्रीनगर और जम्मू के बीच वर्ष भर सड़क संपर्क की सुविधा प्रदान करती है जबकि अटल सुरंग हिमाचल प्रदेश में स्थित है। इस सुरंग का निर्माण हिमाचल प्रदेश और लद्दाख के सुदूर सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वालों को सदैव कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने के लिए किया गया।

प्रश्न 2. निम्नलिखित में से किस उत्पाद को GI टैग मिला हुआ है?

1. तिरुपति लड्डू
2. गमोसा
3. शाही लीची
4. कालनामक चावल

A. 1, 2, 3
B. 2, 3, 4
C. 1, 3, 4
D. उपरोक्त सभी

उत्तर: (D)

व्याख्या: जीआई यानी भौगोलिक संकेतक ऐसा इंडिकेशन है जिसका उपयोग एक निश्चित भौगोलिक क्षेत्र की विशिष्ट वस्तुओं की पहचान के लिये किया जाता है। यह विश्व व्यापार संगठन के बौद्धिक संपदा अधिकारों (ट्रिप्स) के व्यापार-संबंधित पहलुओं का भी हिस्सा है। एक भौगोलिक संकेतक का पंजीकरण 10 वर्ष की अवधि के लिये होता है। इस टैग से अन्य देशों में उत्पाद और देश की पहचान बढ़ती है और निर्यात को बढ़ावा मिलता है। तिरुपति लड्डू(आंध्र प्रदेश), गमोसा(असाम), शाही लीची(बिहार), कालानमक चावल(उत्तर प्रदेश) ऐसे ही कुछ उत्पाद हैं। हाल ही में असम की जुडिमा (Judima) वाइन राइस, जीआई टैग हासिल करने वाली पूर्वोत्तर में पहली पारंपरिक शराब बन गई है।

प्रश्न 3. हाल ही में ख़बरों में रहा मेडिसिन पेटेंट पूल (Medicines Patent Pool) किस संस्था से सम्बद्ध है?

A. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)
B. विश्व व्यापार संगठन (WTO)
C. संयुक्त राष्ट्र
D. आईएमएफ

उत्तर: (C)

व्याख्या : मेडिसिन्स पेटेंट पूल (एमपीपी) एक संयुक्त राष्ट्र समर्थित सार्वजनिक स्वास्थ्य संगठन है जो निम्न और मध्यम आय वाले देशों के लिए जीवन रक्षक दवाओं तक पहुंच बढ़ाने और विकास को सुविधाजनक बनाने के लिए काम कर रहा है। एमपीपी ने जेनेरिक दवा निर्माण और नए फॉर्मूलेशन के विकास को प्रोत्साहित किया है। इसके लिए इस पूल ने नागरिक समाज, सरकारों, अंतरराष्ट्रीय संगठनों, उद्योग, रोगी समूहों और अन्य हितधारकों के साथ साझेदारी भी की है।

प्रश्न 4. हाल ही में भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक को किस संगठन के एक्स्टर्नल ऑडिटर के तौर पर नियुक्त किया गया है?

A. आर्कटिक परिषद
B. एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक
C. पुनर्निर्माण और विकास के लिए अंतर्राष्ट्रीय बैंक
D. अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी

उत्तर: (D)

व्याख्या: भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) को वियना में अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) के आम सम्मेलन में अगले बाहरी लेखा परीक्षक के रूप में चुना गया है। यह कार्यकाल छह साल की अवधि (2022-27) के लिए होगा। इसके लिए कई देशों ने दावेदारी की थी, लेकिन आईएईए आम सम्मेलन में भारत को समर्थन मिला। जहां तक बात CAG की संवैधानिक स्थिति की है तो अनुच्छेद 148 CAG की नियुक्ति, शपथ और सेवा की शर्तों से संबंधित है तो वहीं अनुच्छेद 149 में भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक के कर्त्तव्यों और शक्तियों का उल्लेख है।

प्रश्न 5. निम्नलिखित में से किन उद्योगों के लिए पीएलआई योजना को मंजूरी दी गयी है?

1. ऑटोमोबाइल उद्योग
2. खाद्य उत्पाद
3. दूरसंचार उद्योग

A. केवल 1 और 2
B. केवल 2 और 3
C. 1, 2 और 3
D. उपरोक्त में कोई नहीं

उत्तर: (C)

व्याख्या: पीएलआई योजनाएं आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्‍य को प्राप्त करने के लिए सरकार के कठोर प्रयत्‍न का आधार है। इसका उद्देश्य घरेलू विनिर्माण को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनाना और विनिर्माण में वैश्विक चैंपियंस बनाना है। पीएलआई योजना केंद्रीय बजट 2021-22 के दौरान घोषित की गयी थी। कुल 13 क्षेत्रों के लिए इसे लाया गया है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक / प्रौद्योगिकी उत्पाद, वस्त्र उद्योग, फ़ार्मासूटिकल, खाद्य उत्पाद, दूरसंचार आदि शामिल पीएलआई योजना संबंधित मंत्रालयों/विभागों द्वारा कार्यान्वित की जाएगी।