यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़ (Daily Hindi Current Affair MCQ Quiz for UPSC/State PSC Exams) : 22, अक्टूबर 2021


यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़

(Daily Current Affairs MCQ Quiz for UPSC, IAS, UPPSC/UPPCS, MPPSC. BPSC, RPSC & All State PSC Exams)

तारीख (Date): 22, अक्टूबर 2021


प्रश्न 1: केंद्रीय सतर्कता आयोग के संबंध में निम्नलिखित में कौन सा/से कथन सत्य है/हैं?

1. इस संवैधानिक संस्था की स्थापना के. संथानम समिति के सिफारिशों के आधार पर की गई थी।
2. यह गृह मंत्रालय के तहत कार्य करता है।

A. केवल 1
B. केवल 2
C. 1 और 2 दोनों
D. इनमें से कोई नहीं

उत्तर: (D)

व्याख्या : हाल ही में, गुजरात के केवड़िया में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) और केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) की संयुक्त बैठक का आयोजन किया गया। आपको बता दें कि केंद्रीय सतर्कता आयोग एक शीर्षस्थ सतर्कता संस्थान है। यह केंद्रीय सरकारी संगठनों में अलग-अलग प्राधिकारियों को उनके सतर्कता कार्यों की योजना बनाने, उनके निष्पादन, समीक्षा और सुधार करने के संबंध में सलाह देता है। साल 1964 में के. संथानम की अध्यक्षता वाली भ्रष्टाचार निरोधक समिति की सिफारिशों पर सरकार द्वारा CVC की स्थापना की गई थी। ये संस्था केंद्रीय सतर्कता आयोग अधिनियम, 2003 के प्रावधानों के मुताबिक़ कार्य करती है। इस तरह ये एक सांविधिक संस्था हुई न कि संवैधानिक। यह एक स्वतंत्र निकाय है जो केवल संसद के प्रति ज़िम्मेदार है। यह अपनी रिपोर्ट भारत के राष्ट्रपति को सौंपती है।

प्रश्न 2: वर्तमान में किस राज्य के विधानसभा भवन का शताब्दी समारोह मनाया जा रहा है?

A. बिहार
B. तमिल नाडु
C. असम
D. राजस्थान

उत्तर: (A)

व्याख्या: बिहार विधानसभा का भवन सौ साल का हो गया है, जिसको लेकर शताब्दी समारोह का आयोजन किया जा रहा है। समारोह में शामिल होने के लिए भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद भी बिहार पहुंचे हैं। वहीं, अगर विधानसभा सभा भवन की बात करें तो आज से 100 साल पहले 1921 में 7 फरवरी को मौजूदा भवन में पहली बैठक हुई थी, तब इसे 'बिहार-उड़ीसा विधान परिषद' के नाम से जाना जाता था। इस भवन के आर्किटेक्ट एएम मिलवुड थे। इतालवी पुनर्जागरण शैली में बनी यह इमारत कई मायनों में ख़ास है।

प्रश्न 3: मार्तंड सूर्य मंदिर के संबंध में निम्नलिखित में कौन सा कथन असत्य है?

A. इसका निर्माण कार्कोटराजवंश के तीसरे शासक ‘ललितादित्य मुक्तापीड’ द्वारा करवाया गया था।
B. यह 8वीं शताब्दी में निर्मित किया गया था।
C. यह मंदिर ‘कोणार्क’ और ‘मोढेरा’ सूर्य मंदिर की तुलना में काफी बाद में बनवाया गया था।
D. यह कश्मीर में अवस्थित है।

उत्तर: (C)

व्याख्या : कश्मीर के मार्तंड सूर्य मंदिर का निर्माण कार्कोटराजवंश के तीसरे शासक ‘ललितादित्य मुक्तापीड’ द्वारा 8वीं शताब्दी में करवाया गया था। इसे पैंडो लेदन के नाम से भी जाना जाता है। यह सूर्य को समर्पित एक हिंदू मंदिर है। मुस्लिम शासक सिकंदर शाह मिरी के आदेश से इस मंदिर को नष्ट कर दिया गया था। यह मंदिर ‘कोणार्क’ और ‘मोढेरा’ से काफी प्राचीन ज्ञात सूर्य मंदिरों में से एक है। हाल ही में, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने इस प्राचीन सूर्य मंदिर की यात्रा की जिसकी वजह से यह मंदिर सुर्खियों में आ गया।

प्रश्न 4: हाल ही में एलियम नेगियनम (Allium negianum) चर्चा में था। यह क्या है?

A. एक क्षुद्र ग्रह
B. उत्तराखंड में पाया जाने वाला एक खास किस्म का पौधा
C. सांपों की एक नई प्रजाति
D. एक हानिकारक ऑनलाइन गेम

उत्तर: (B)

व्याख्या: हाल ही में, उत्तराखंड में चमोली जिले की नीति घाटी के क्षेत्र में एलियम नेगियनम नामक एक नई पौध प्रजाति की खोज की गई। हालांकि स्थानीय लोग इस पौधे के बारे में पहले से ही जानते हैं। यह पौधा समुद्र तल से 3000 से 4800 मीटर की ऊंचाई पर उगता है। ये बहुत ही कम जगहों पर पाया गया है। नई प्रजाति पश्चिमी हिमालय के क्षेत्र तक ही सीमित है और अभी तक दुनिया में इसके कहीं और पाए जाने की जानकारी नहीं मिली है। एलियम नेगियनम का वैज्ञानिक नाम भारत के प्रख्यात खोजकर्ता और एलियम संग्रहकर्ता स्वर्गीय डॉ. कुलदीप सिंह नेगी के सम्मान में रखा गया है।

प्रश्न 5: सोवा-रिग्पा (Sowa -Rigpa) के संबंध में निम्नलिखित में कौन से कथन सत्य हैं?

1. एक पारंपरिक चिकित्सा प्रणाली है.
2. इसके ज्यादातर सिद्धांत एवं व्यवहार आयुर्वेद से अलग हैं।
3. इसकी उत्पत्ति तिब्बत में हुई थी।

A. केवल 1 और 2
B. केवल 2 और 3
C. केवल 1 और 3
D. 1, 2 और 3

उत्तर: (C)

व्याख्या: हाल ही में, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने ‘बैचलर ऑफ सोवा रिग्पा मेडिसिन एंड सर्जरी’ (BSRMS) को विशेष डिग्री के रूप में मान्यता दी। इस पांच वर्षीय इस डिग्री में प्रवेश की योग्यता टेन प्लस टू (10+2) निर्धारित की गयी है। आपको बता दें कि सोवा-रिग्पा भारत के हिमालयी क्षेत्र में प्रचलित एक पारंपरिक चिकित्सा प्रणाली है। इसकी उत्पत्ति तिब्बत में हुई और भारत, नेपाल, भूटान, मंगोलिया और रूस जैसे देशों में काफी प्रचलन में है। तिब्बत के ‘युथोग योंटेन गोंपो’ को ‘सोवा रिग्पा’ का जनक माना जाता है। सोवा-रिग्पा के अधिकांश सिद्धांत और व्यवहार “आयुर्वेद” के जैसे ही हैं।