यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़ (Daily Hindi Current Affair MCQ Quiz for UPSC/State PSC Exams) : 18, अक्टूबर 2021


यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स MCQ क्विज़

(Daily Current Affairs MCQ Quiz for UPSC, IAS, UPPSC/UPPCS, MPPSC. BPSC, RPSC & All State PSC Exams)

तारीख (Date): 18, अक्टूबर 2021


प्रश्न 1. केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण के अधिकारों के संबंध में निम्नलिखित में से कौन सा कथन असत्य है?

A. यह भारतीय चिड़ियाघरों में जानवरों के देखभाल के लिए मानदंडों को तय करता है।
B. यह देश के प्रत्येक चिड़ियाघर को संचालन के लिए मान्यता प्रदान करने का भी काम करता है।
C. इसके पास चिड़ियाघर की मान्यता रद्द करने की शक्ति प्राप्त है।
D. इसकी स्थापना साल 2016 में हुई थी

उत्तर: (D)

व्याख्या : हाल ही में, भारतीय चिड़ियाघरों के लिए ‘विजन प्लान (2021-2031)’ जारी किया गया है। इस विजन प्लान का उद्देश्य भारतीय चिड़ियाघरों को बेहतर बनाना और केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण यानि सेंट्रल जू अथॉरिटी को मजबूत करना है। बता दें कि यह भारत में चिड़ियाघरों के लिए एक वैधानिक नियामक संस्था है। इसकी स्थापना साल 1992 में हुई थी। इसका मुख्य उद्देश्य, ‘राष्ट्रीय चिड़ियाघर नीति’, 1998 के मुताबिक़ देश की समृद्ध जैव विविधता, खासकर जीवों के संरक्षण को बढ़ावा देना है।

प्रश्न 2. निम्नलिखित में से किस महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय संस्था ने हाल ही में भारत को अपना पूर्णकालिक सदस्य बनने के लिए आमंत्रित किया है?

A. एशिया-प्रशांत महासागरीय आर्थिक सहयोग
B. अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी
C. ओपेक
D. यूरोपीय संघ

उत्तर: (B)

व्याख्या: हाल ही में, अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (IEA) ने भारत को अपना पूर्णकालिक सदस्य बनने के लिए आमंत्रित किया है। ग़ौरतलब है कि भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा ऊर्जा उपभोक्ता देश है। अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी के बारे में आपको बताएं तो ये एक अंतर-सरकारी स्वायत्त संगठन है। इसकी स्थापना आर्थिक सहयोग और विकास संगठन फ्रेमवर्क के अनुसार साल 1974 में की गई थी। ये ऊर्जा सुरक्षा, आर्थिक विकास, पर्यावरण जागरूकता और वैश्विक सहभागिता के लिए काम करता है। इसका मुख्यालय (सचिवालय) पेरिस, फ्रांस में है।

प्रश्न 3. हाल ही में ‘पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन’ को 'महारत्न' का दर्जा दिया गया। महारत्न’ का दर्जा दिए जाने के सम्बंध में कौन सा/से कथन सत्य हैं?

1. महारत्न’ व्यवस्था की शुरुआत वर्ष 2010 में की गयी थी।
2. यह दर्जा उस कंपनी को दिया जाता है जिसने लगातार बीते तीन वर्षों में 5,000 करोड़ रुपए से अधिक का शुद्ध लाभ प्राप्त किया है।

A. केवल कथन 1 सत्य
B. केवल कथन 2 सत्य
C. 1 और 2 दोनों सही
D. 1 और 2 दोनों ग़लत

उत्तर: (C)

व्याख्या : ‘महारत्न’ व्यवस्था की शुरुआत वर्ष 2010 में सार्वजनिक क्षेत्र के बड़े उद्यमों को वैश्विक स्तर की दिग्गज कम्पनियाँ बनाने के उद्देश्य से की गई थी। सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों यानी ऐसी कंपनियाँ जिनमें केंद्र सरकार की प्रत्यक्ष हिस्सेदारी 51% या उससे अधिक होती है। ‘महारत्न’ का दर्जा उस कंपनी को दिया जाता है जिसने लगातार बीते तीन वर्षों में 5,000 करोड़ रुपए से अधिक का नेट प्रॉफ़िट प्राप्त किया है अथवा बीते तीन वर्षों के लिये उसका औसत वार्षिक कारोबार 25,000 करोड़ रुपए था। इसके अलावा अन्य मानदंडों में महारत्न होने के लिए ‘केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों’ को न केवल भारतीय स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होना चाहिए बल्कि ‘नवरत्न’ का दर्जा होना भी अनिवार्य है।

प्रश्न 4. अंतर्राष्ट्रीय ई-कचरा (E-Wastage) दिवस कब मनाया जाता है?

A. 14 अक्टूबर
B. 15 अक्टूबर
C. 21 सितम्बर
D. 22 सितम्बर

उत्तर: (A)

व्याख्या: विश्व भर में प्रतिवर्ष 14 अक्तूबर को ई-कचरे के स्वास्थ्य प्रभावों के संबंध में जागरूकता पैदा करने हेतु ‘अंतर्राष्ट्रीय ई-कचरा दिवस’ का आयोजन किया जाता है। इस दिवस की शुरुआत ‘वेस्ट इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक फोरम’ (WEEF) द्वारा वर्ष 2018 में की गई थी संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, 2021 में पृथ्वी पर प्रत्येक व्यक्ति औसतन 7.6 किलोग्राम ई-कचरा पैदा करेगा, जिसका अर्थ है कि दुनिया भर में 57.4 मिलियन टन ई वेस्ट उत्पन्न होगा। भारत की बात करें तो ‘केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड’ के अनुसार भारत में 312 पंजीकृत ई-कचरा पुनर्चक्रणकर्त्ता हैं, जिनकी क्षमता प्रतिवर्ष 782,080.62 टन ई-कचरे के प्रबंधन की है। जब कोई इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद या उससे जुड़े अन्य उत्पाद उपयोग से बाहर हो जाते हैं तो इन्हें संयुक्त रूप से ‘ई-कचरे’ की संज्ञा दी जाती है।

प्रश्न 5. हाल ही में किस संस्था द्वारा वैश्विक जलवायु जोखिम सूचकांक 2021 (Global Climate Risk Index 2021) जारी किया गया है?

A. यूएनईपी (UNEP)
B. जर्मनवॉच
C. आईपीसीसी (IPCC)
D. विश्व बैंक

उत्तर: (B)

व्याख्या: हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण थिंक टैंक 'जर्मनवॉच' ने वैश्विक जलवायु जोखिम सूचकांक 2021 (Global Climate Risk Index 2021) जारी किया। यह इस सूचकांक का 16वाँ संस्करण है। यह प्रतिवर्ष प्रकाशित होता है। जर्मनवाच जर्मनी में स्थित एक स्वतंत्र विकास और पर्यावरण संगठन है जो सतत् वैश्विक विकास के लिये कार्यरत है। Index के अंतर्गत घातक मानवीय प्रभावों और प्रत्यक्ष आर्थिक नुकसान दोनों का विश्लेषण किया जाता है। वर्ष 2021 के सूचकांक में संयुक्त राज्य अमेरिका केआँकड़ों को शामिल नहीं किया गया है। भारत ने पिछले वर्ष की तुलना में अपनी रैंकिंग में सुधार किया है। वैश्विक जलवायु जोखिम सूचकांक-2021 में भारत 7वें स्थान पर है, जबकि वैश्विक जलवायु जोखिम सूचकांक-2020 में भारत 5वें स्थान पर था।