डब्ल्यूएचओ की ‘आपातकालीन उपयोग सूची’ या ईयूएल मानक : डेली करेंट अफेयर्स

डब्ल्यूएचओ की ‘आपातकालीन उपयोग सूची’ या ईयूएल मानक

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने कोवैक्सिन के आपातकालीन उपयोग सूची (Emergency Use Listing – EUL) के लिए आवश्यक सभी दस्तावेज विश्व स्वास्थ्य संगठन को जमा किए हैं।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, एक वैक्सीन कंपनी को COVAX या अंतरराष्ट्रीय खरीद जैसी वैश्विक सुविधाओं के लिए टीकों की आपूर्ति करने के हेतु उन टीकों का WHO की पूर्व-योग्यता (pre-qualification), या आपातकालीन उपयोग सूची (Emergency Use Listing – EUL) में शामिल होना आवश्यक है।

Wild animals may trigger over 70% of emerging diseases : WHO ...

प्रमुख बिन्दु

  • इस समय डब्ल्यूएचओ ने फाइजर-बायोएनटेक, एस्ट्राजेनेका-एसके बायो-सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, एस्ट्राजेनेका ईयू, जानसेन, मॉडर्ना और सिनोफार्म के टीकों को आपात उपयोग के लिए मंजूरी दी है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन, भारत बायोटेक के कोविड-19 रोधी टीके कोवैक्सिन को आपात उपयोग की सूची (ईयूएल) में शामिल करने पर फैसला जल्द ही कर सकता है।

WHO की ‘आपातकालीन उपयोग सूची’ (EUL)

  • डब्ल्यूएचओ के दिशानिर्देशों के अनुसार, ईयूएल एक प्रक्रिया है जिसके तहत नये या गैर-लाइसेंस प्राप्त उत्पादों का इस्तेमाल सार्वजनिक स्वास्थ्य की आपात स्थितियों में किया जा सकता है।
  • ईयूएल की एक प्रक्रिया होती है जिसमें किसी कंपनी को तीसरे चरण के परीक्षण पूरे करने होते हैं और सारे आंकड़े डब्ल्यूएचओ के नियामक विभाग को जमा करने होते हैं जिनका एक विशेषज्ञ परामर्शदाता समूह अध्ययन करता है।
  • WHO की आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) देशों को COVID-19 टीकों के आयात और प्रबंधन के लिए अपने स्वयं के नियामक अनुमोदन में तेजी लाने की भी अनुमति देता है।
  • आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) कोविड -19 टीकों की गुणवत्ता, सुरक्षा और प्रभावकारिता के साथ-साथ जोखिम प्रबंधन योजनाओं और कार्यक्रम संबंधी उपयुक्तता, जैसे कोल्ड चेन जैसी आवश्यकताओं का आकलन करता है।
  • आपातकालीन उपयोग सूची (ईयूएल) प्रक्रिया सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थितियों के दौरान नए स्वास्थ्य उत्पादों की उपयुक्तता का आकलन करती है। इसका उद्देश्य सुरक्षा, प्रभावोत्पादकता और गुणवत्ता के कड़े मानदंडों का पालन करते हुए आपात स्थिति से निपटने के लिए जितनी जल्दी हो सके दवाएं, टीके और निदान उपलब्ध कराना है।

डबल्यूएचओ सूची में शामिल होने के लिए मानदंड

  • जिस बीमारी के लिए किसी उत्पाद को आपातकालीन उपयोग सूची(ईयूएल) में शामिल करने हेतु आवेदन किया गया है वह बीमारी गंभीर या जीवन के लिए तत्काल संकट उत्पन्न करने वाली होनी चाहिए । इसके अतिरिक्त इसमें प्रकोप, महामारी या महामारी पैदा करने की क्षमता हो।
  • वर्तमान में मौजूद टीके और दवायें बीमारी को खत्म करने या प्रकोप को रोकने में सफल नहीं रहे हों।

आपात स्थिति के लिए वैज्ञानिक सलाहकार समूह

  • आपात स्थिति के लिए वैज्ञानिक सलाहकार समूह (Scientific Advisory Group for Emergencies- SAGE) टीके और टीकाकरण के लिए डब्ल्यूएचओ का प्रमुख सलाहकार समूह है।
  • यह डब्ल्यूएचओ को टीकों और प्रौद्योगिकी, अनुसंधान और विकास से लेकर टीकाकरण के वितरण और अन्य स्वास्थ्य हस्तक्षेपों के साथ समग्र वैश्विक नीतियों और रणनीतियों पर सलाह देने का कार्य करता है।
  • SAGE का संबंध न केवल बचपन के टीकों और टीकाकरण से है, बल्कि सभी प्रकार की वैक्सीन से है जो बीमारियों की रोकथाम में मदद करती हों।