'ड्रिंक फ्रॉम टैप' (सुजल) मिशन ('Drink from Tap' (Sujal) Mission) : डेली करेंट अफेयर्स

'ड्रिंक फ्रॉम टैप' (सुजल) मिशन ('Drink from Tap' (Sujal) Mission)

हाल ही में, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 'ड्रिंक फ्रॉम टैप' (सुजल) (Drink from Tap) मिशन की शुरुआत की। इस मिशन की शुरुआत के साथ ही ओडिशा का पुरी देश का पहला ऐसा शहर बन गया है जहां सभी घरों में लोगों को 24 घंटे नल से शुद्ध पीने का पानी मिल पाएगा। इस तरह पुरी के तकरीबन 2.5 लाख निवासियों को इसका फायदा मिलेगा। साथ ही, सालाना पुरी धाम आने वाले तकरीबन 2 करोड़ पर्यटकों को भी इस मिशन की वजह से राहत मिलेगी।

गोवा देश का पहला/प्रथम 'हर घर जल ...

सुजल मिशन के द्वारा अब लोगों को पानी जमा करके रखने या फिल्टर करने की जरूरत नहीं है। कोई भी व्यक्ति सीधा नल खोलकर पानी को खाना बनाने या पीने में इस्तेमाल कर सकता है। मिशन के लांच के समय मुख्यमंत्री ने लोगों से ये भी अपील किया कि शहरवासी पानी को बर्बाद ना करें। बता दें कि मौजूदा वक़्त में दुनिया के लंदन, न्यू यॉर्क और सिंगापुर जैसे कुछ ही शहर ऐसे हैं, जहाँ चौबीस घंटे जलापूर्ति की सुविधा है और अब पुरी भी इन बड़े शहरों की लीग में शामिल हो गया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2019 को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 'जल जीवन मिशन' की घोषणा की थी। इस योजना को राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों की साझेदारी में लागू किया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य 2024 तक सभी घरों को पाइप के जरिये पानी पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इस मिशन के तहत कृषि में पुन: उपयोग के लिये वर्षा जल संचयन, भू-जल पुनर्भरण और घरेलू अपशिष्ट जल के प्रबंधन हेतु स्थानीय बुनियादी ढाँचे के निर्माण पर भी ध्यान दिया जाएगा। सरकार ने उम्मीद जताई थी कि इससे न केवल जल संकट दूर होगा, बल्कि रोजगार के नए अवसर, ग्रामीण अर्थव्यवस्था और स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलेगा।