भारतनेट परियोजना (BharatNet Project) : डेली करेंट अफेयर्स

भारतनेट परियोजना (BharatNet Project)

चर्चा में क्यों?

हाल ही में दूरसंचार विभाग ने भारतनेट के लिए सार्वजनिक निजी भागीदारी मॉडल कार्यान्वयन के संबंध में विभिन्न हितधारकों के साथ बोली पूर्व बैठके प्रारम्भ कर दी है।

भारतनेट परियोजनाः

  • सरकार के इस भारतनेट प्रोजेक्ट का लक्ष्य सभी गांवो तक ऑप्टिकल फाइबर के माध्यम से उच्च गति ब्रॉडबैंड कनेक्शन से जोड़ना है।
  • भारत नेट चरण 1 के अंतर्गत 100,000 ग्राम पंचायतों को कवर करने का कार्य 2017 में पूरा कर लिया गया था।
  • चरण 2 के अन्तर्गत भारत नेट में शेष 150000 ग्राम पंचायतों को 31 मार्च 2019 तक जोड़ा जाना था। सरकार ने चरण-2 में तीन मॉडलों, राज्य सरकार मॉडल, निजी क्षेत्र मॉडल, सार्वजनिक प्रतिष्ठान मॉडल के माध्यम से लागू किया जा रहा है।
  • भारतनेट का उपयोग बीएसएनएल, सीएसबी एसपीवी, टीएसपी तथा आईएसपी द्वारा ग्राम पंचायतों में सेवा प्रदान करने के लिए किया जा रहा है।
  • इस परियोजना के तहत ब्रॉडबैंड ऑप्टिकल फाइबर पहुँचाना जहाँ संभव नहीं हो, वहाँ वायरलैस एवं सैटेलाइट नेटवर्क का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • भारत नेट परियोजना के तहत स्कूलों, स्वास्थ्य केन्द्रों को इंटरनेट कनेक्शन निशुल्क प्रदान किये जायंगे।
  • इस परियोजना के तहत ब्रॉडबैंड की गति 2 से 20 mbps तक होगी।
  • भारतनेट परियोजना संचार मंत्रालय के तहत दूरसंचार विभाग द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।
  • संपूर्ण देश भर में ब्रॉडबैंड संवाओं की सार्वभौमिक और समान पहुँच के लिए सरकार ने राष्ट्रीय ब्रॉडबैंड मिशन को शुरू किया गया है।