यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana - PMGKAY)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स ब्रेन बूस्टर (Current Affairs Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana - PMGKAY)

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana - PMGKAY)

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में भारत सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) से संबन्धित आंकड़ों को जारी किया है। भारत सरकार ने बताया है कि पीएमजीकेएवाई के तहत 16 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों ने मई, 2021 के लिए 100 प्रतिशत खाद्यान्न ले लिया है। इसके अतिरक्त, भारतीय खाद्य निगम ने पीएमजीकेएवाई के तहत राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों को 31.80 एलएमटी मुफ्त खाद्यान्न की आपूर्ति की है।

प्रमुख बिन्दु

  • 17 मई, 2021 तक सभी 36 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों ने भारतीय खाद्य निगम से 31.80 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न उठाया है।
  • केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप ने मई और जून 2021 के लिए पूर्ण आवंटित खाद्यान्न उठा लिया है।
  • वहीं 15 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों अर्थात आंध्र प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, केरल, लद्दाख, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पुद्दुचेरी, तमिलनाडु, तेलंगाना और त्रिपुरा ने भी मई 2021 के लिए आवंटित 100 प्रतिशत खाद्यान्न प्राप्त कर लिया है।
  • भारत सरकार द्वारा सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पीएमजीकेएवाई के तहत समयबद्ध तरीके से मुफ्त खाद्यान्न प्राप्त करने और वितरित करने के लिए जागरूक किया गया है।
  • उल्लेखनीय है कि राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों को केंद्रीय सहायता के हिस्से के रूप में खाद्यान्न की लागत और अंतर्राज्यीय परिवहन आदि के लिए 26,000 करोड़ रुपये से अधिक का पूरा खर्च भारत सरकार वहन करेगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP)

  • कोविड-19 महामारी की चुनौतियों से निपटने हेतु भारत सरकार द्वारा ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज’ (Pradhan Mantri Garib Kalyan Package-PMGKP) की शुरुआत मार्च 2020 को की गई थी। इसके अंतर्गत तीन योजनाएँ आती हैं-
  • ˆˆस्वास्थ्य कर्मियों के लिये बीमा योजना
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY)
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY)

  • कोविड-19 महामारी की चुनौतियों से निपटने हेतु भारत सरकार द्वारा ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ (Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana- PMGKAY) को मार्च 2020 में मंजूरी प्रदान की गई थी।
  • दरअसल इस योजना को ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज’ (Pradhan Mantri Garib Kalyan Package - PMGKP) के एक हिस्से के रूप में लांच किया गया था।
  • ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ (PMGKAY) के अंतर्गत प्रत्येक व्यक्ति को ‘राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम’ (National Food Security Act- NFSA) के तहत प्रदान किये जाने वाले 5 किलो अनुदानित अनाज के अतिरक्त निशुल्क अनाज प्रदान किया जाता है।
  • अतिरक्त निशुल्क अनाज की यह मात्रा 5 किलोग्राम है।

‘राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013’ (National Food Security Act- NFSA)

  • राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए), 2013 का उद्देश्य एक गरिमापूर्ण जीवन जीने के लिए लोगों को वहनीय मूल्यों पर अच्छी गुणवत्ता के खाद्यान्न की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध कराते हुए उन्हें मानव जीवन-चक्र दृष्टिकोण में खाद्य और पौषणिक सुरक्षा प्रदान करना है। पात्र व्यक्ति को चावल/ गेहूं/मोटे अनाज क्रमशः 3/ 2/1 रूपए प्रति किलोग्राम के वहनीय मूल्यों पर 5 किलोग्राम खाद्यान्न प्रति व्यक्ति प्रति माह प्रदान किया जाता है। मौजूदा अंत्योदय अन्न योजना परिवार, जिनमें निर्धनतम व्यक्ति शामिल हैं उनको 35 किलोग्राम खाद्यान्न प्रति परिवार प्रति माह प्रदान किया जाता है।