यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: पन्ना बायोस्फीयर रिजर्व (Panna Biosphere Reserve)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स ब्रेन बूस्टर (Current Affairs Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): पन्ना बायोस्फीयर रिजर्व (Panna Biosphere Reserve)

पन्ना बायोस्फीयर रिजर्व (Panna Biosphere Reserve)

चर्चा का कारण

  • हाल ही में पन्ना टाइगर रिजर्व को यूनेस्को (United Nations Educational Scientific and Cultural Organisation - UNESCO) की ‘व र्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फीयर रिजर्व’ सूची में शामिल किया गया है। पन्ना टाइगर रिजर्व भारत का 22वां बाघ अभयारण्य है।

प्रमुख बिन्दु

  • बायोस्फीयर रिजर्व, प्राकृतिक और सांस्कृतिक परिदृश्य का प्रतिनिधित्व करता है जिनका विस्तार स्थलीय या तटीय / समुद्री पारिस्थितिकी प्रणालियों या इनके मिश्रण वाले बड़े क्षेत्र में होता है।
  • बायोस्फीयर रिजर्व भौगोलिक रूप से जीव जंतुओं के प्राकृतिक आवास की रक्षा करते हैं। पन्ना टाइगर रिजर्व को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। इससे टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा और आर्थिक मजबूती आएगी साथ ही बफर जोन का जंगल बेहतर होगा।

बायोस्फियर रिजर्व के लिए मानदंड

  • प्रकृति संरक्षण के दृष्टिकोण से संरक्षित और न्यूनतम अशांत क्षेत्र होना चाहिए।
  • संपूर्ण क्षेत्र एक जैव-भौगोलिक इकाई की तरह होना चाहिए और इतना बड़ा होना चाहिए जो पारिस्थितिकी तंत्र के सभी पौष्टिकता स्तरों का प्रतिनिधित्व कर रहे जीवों की आबादी को संभाल सकें।
  • प्रबंधन प्राधिकरण को स्थानीय समुदायों की भागीदारी / सहयोग सुनिश्चित करना चाहिए ताकि जैव विविधता के संरक्षण और सामाजिक-आर्थिक विकास को आपस में जोड़ते समय प्रबंधन और संघर्ष को रोकने के लिये उनके ज्ञान और अनुभव का लाभ उठाया जा सके।
  • वह क्षेत्र जिनमे पारंपरिक आदिवासी या ग्रामीण स्तरीय जीवनयापन के तरीको को संरक्षित रखने की क्षमता हो ताकी पर्यावरण का सामंजस्यपूर्ण उपयोग किया जा सके।

बायोस्फीयर रिजर्व की अंतरराष्ट्रीय स्थिति

  • यूनेस्को ने ‘बायोस्फीयर रिजर्व’ की शुरुआत प्राकृतिक क्षेत्रें में विकास और संरक्षण के बीच संघर्ष को कम करने के उद्येश्य से की है।
  • बायोस्फीयर रिजर्व का चुनाव राष्ट्रीय सरकार द्वारा किया जाता है जिसमें यूनेस्को के मानव और बायोस्फीयर रिजर्व कार्यक्रम के अंतर्गत तय न्यूनतम मापदंड पाये जाते हैं एवं वे बायोस्फीयर रिजर्व के वैश्विक जाल में शामिल होने के लिए निर्धारित शर्तों का पालन करते हैं। वर्तमान में 129 देशों में 714 बायोस्फीयर रिजर्व फैले हुए है। इसमें 21 ट्रांस बाउंड्री साइट शामिल हैं।

पन्ना टाइगर रिजर्व के बारे में

  • पन्ना टाइगर रिजर्व को यूनेस्को ने अपने मैन एंड बायोस्फीयर प्रोग्राम का हिस्सा बनाया है। पन्ना टाइगर रिजर्व भारत का 22वां बाघ अभयारण्य है। बाघों के मुख्य अभयारण्य होने के साथ-साथ यहां मगरमच्छ और अन्य जीव भी अच्छी संख्या में हैं।
  • मध्य प्रदेश के उत्तर में पन्ना और छतरपुर जिलों में फैला टाइगर रिजर्व विंध्य रेंज में स्थित है। साल 1981 में पन्ना टाइगर रिजर्व की स्थापना राष्ट्रीय उद्यान के तौर पर की गयी थी। बाद में साल 1994 में केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय उद्यान को पन्ना टाइगर रिजर्व के रूप में घोषित की दिया था।

यूनेस्को

  • यूनेस्को (UNESCO) संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन का लघुरूप है। संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) संयुक्त राष्ट्र का एक घटक निकाय है। इसका कार्य
    शिक्षा, प्रकृति तथा समाज विज्ञान, संस्कृति तथा संचार के माध्यम से अंतराष्ट्रीय शांति को बढ़ावा देना है।
  • संयुक्त राष्ट्र की इस विशेष संस्था का गठन 16 नवम्बर 1945 को हुआ था। यूनेस्को के 195 सदस्य देश हैं और सात सहयोगी सदस्य देश और दो पर्यवेक्षक सदस्य देश हैं। इसका मुख्यालय पेरिस (फ्रांस) में है।
    यूनेस्को की विरासत सूची में हमारे देश के कई ऐतिहासिक इमारत और पार्क शामिल हैं।