यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (National Disaster Relief Fund - NDRF)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (National Disaster Relief Fund - NDRF)

राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (National Disaster Relief Fund - NDRF)

चर्चा का कारण

  • हाल ही में वित्त मंत्रलय द्वारा व्यत्तिफ़यों और संस्थानों को सीधे राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (एनडीआरएफ) में योगदान करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गयी।
  • वित्त मंत्रलय द्वारा राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (NDRF) में सीधे दान करने की अनुमति देना काफी महत्वपूर्ण है, क्योकि हाल ही में कई लोगों द्वारा PM CARES फंड अथवा प्रधान मंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में भेजे गए दान के बारे सवाल किये गए। इसके साथ ही, इन दोनों कोषों को सूचना अधिकार अधिनियम के तहत ‘सार्वजनिक प्राधिकरण से बाहर’ घोषित कर दिया गया है।

राष्ट्रीय आपदा राहत कोष

  • एनडीआरएफ की स्थापना आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 46 के अनुसार की गई थी।
  • इस कोष का गठन किसी संकटपूर्ण आपदा स्थिति में ‘आपातकालीन प्रतिक्रिया, राहत और पुनर्वास के लिए व्यय को पूरा करने के लिए’ किया गया है। इसका प्रबंधन केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है।
  • गंभीर प्रकृति की आपदाओं की स्थिति में तत्काल राहत देने के लिए राज्यों के राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष (एसडीआरएफ) हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • NDRF को भारत सरकार के फ्लोक लेखाय् में ब्याज रहित आरक्षित निधि के अंतर्गत रखा गया है। भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (CAG) NDRF के खातों का ऑडिट करते हैं।
  • राष्ट्रीय राहत कोष में किसी व्यत्तिफ़ और संस्था से केवल स्वैच्छिक अंशदान ही स्वीकार किए जाते हैं।
  • सरकार के बजट स्रोतों से अथवा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के बैलेंस शीट्स से मिलने वाले अंशदान स्वीकार नहीं किए जाते हैं।

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (PMNRF)

  • पाकिस्तान से विस्थापित लोगों की मदद करने के लिए जनवरी, 1948 में तत्कालीन प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की अपील पर सार्वजनिक योगदान के साथ प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (Prime Minister National Relief Fund - PMNRF) की स्थापना की गई थी।
  • प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष की धनराशि का इस्तेमाल अब मुख्य रूप से बाढ़, चक्रवात और भूकंप आदि जैसी प्राकृतिक आपदाओं में मारे गए लोगों के परिवारों को और प्रमुख दुर्घटनाओं और दंगों के पीडि़तों को तत्काल राहत देने के लिए किया जाता है।
  • इसके अलावा, हृदय शल्य-चिकित्सा, गुर्दा प्रत्यारोपण, कैंसर आदि के उपचार के लिए भी इस कोष से सहायता दी जाती है।

सार्वजनिक प्राधिकरण

  • आरटीआई अधिनियम की धारा 2 (एच) के अनुसार, फ्सार्वजनिक प्राधिकरणय् का अर्थ किसी भी प्राधिकरण, या निकाय, या संस्था से है, जो सरकार द्वारा स्व-स्थापित या गठित की गई हो जो किसी ( संविधान द्वारा या उसके अधीन ( संसद द्वारा बनाए गए किसी अन्य कानून से ( राज्य विधानमंडल द्वारा बनाए गए किसी अन्य कानून से ( तात्कालिक सरकार द्वारा जारी अधिसूचना या अध्यादेश से
  • सार्वजनिक प्राधिकरण की परिभाषा में सरकारी और गैर-सरकारी संगठनों के स्वामित्व में नियंत्रित या पर्याप्त रूप से वित्तपोषित निकाय भी शामिल हैं, जो सरकार द्वारा प्रदान की गई धनराशि से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से वित्तपोषित हैं।