यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: जुनेथिन्थ महोत्सव (Juneteenth Day)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): जुनेथिन्थ महोत्सव (Juneteenth Day)

जुनेथिन्थ महोत्सव (Juneteenth Day)

चर्चा का कारण

  • हाल ही में अपनी संस्कृति के लिए निरंतर आत्म-विकास और सम्मान को प्रोत्साहित करते हुए, अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय ने अपनी स्वतन्त्रता का 155 वाँ वर्ष मनाया। इसे जुनेथिन्थ कहा जाता है क्योंकि मूल रूप से यह जून और उन्नीसवीं(नाइथिन्थ) का एक संयोजन है और उस तारीख को चिह्नित करता है जो संयुक्त राज्य अमेरिका में गुलामी के अंत का प्रतीक है।

पृष्ठभूमि

  • लगभग तीन साल चले अमेरिकी गृह युद्ध में राष्ट्रपति इब्राहीम लिंकन ने स्वतंत्रता की उद्घोषणा जारी की, जिसमें बताया गया कि विद्रोही राज्यों के भीतर गुलाम के रूप में पकड़े सभी लोगों को मानवता के नाते स्वतंत्र कर दिया जायेगा और दासता से मुत्तिफ़ दे दी जायेगी, उस समय कुछ चार लाख गुलाम पकड़े गये थे।
  • परन्तु ,वास्तविकता में दासता समाप्त होने में वर्षों लग गए। यह उद्घोषणा उन सीमावर्ती राज्यों पर लागू नहीं होती थी जो संघ के प्रति वफादार थे। बाद में, युद्ध समाप्ति की घोषणा के दो साल और ढाई महीने बाद टेक्सास में मेजर जनरल गॉर्डन ग्रेंजर के नेतृत्व में सैनिकों ने 19 जून 1865 को स्वतंत्रता की उद्घोषणा की।

जुनेथिन्थ का महत्व

  • जुनेथिन्थ एक राष्ट्रीय अवकाश का दिन नहीं है फिर भी कई राज्यों और कोलंबिया ने इस दिन को छुट्टी के रूप में मान्यता देने के लिए कानून पारित किया है,1 जनवरी, 1980 को टेक्सास राज्य छुट्टी के रूप में जुनेथ को मान्यता देने वाला पहला राज्य था।
  • अतीत में, अटलांटा सहित अनेक शहरों में छुट्टी के उपलक्ष्य में परेड, उत्सव और मंच आयोजित किए जाते थे। परंतु कोरोनोवायरस महामारी के कारण, उन समारोहों में से कई को रद्द कर दिया गया है।
  • फिर भी, कई लोगों ने जुनेथिंथ के सम्मान में अवकाश को मनाने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है।

अमेरिकी नस्लवादी हिंसा के दौरान जुनेथिन्थ महोत्सव

  • कई अमेरिकी कंपनियों ने अश्वेत अफ्रीकी अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ्रलॉयड की मौत के मद्देनजर घोषणा की है कि इस साल वे कंपनी की अधिकारिक छुट्टी के रूप में जुनेथिन्थ को नामित कर रहे हैं।
  • इसके अलावा वोक्स, ट्विटर और स्क्वायर जैसी संस्थाओं द्वारा भी, उनके अश्वेत कर्मचारियों और अश्वेत समुदाय के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए, एक कार्पाेरेटिव प्रयास किया गया है।
  • गौरतलब है कि बीते कुछ महीनो पहले श्वेत पुलिस कर्मियों द्वारा मिनियापोलिस में जॉर्ज फ्रलॉयड, और अटलांटा में रेशर्ड रूक्स की हत्या के विरोध में अफ्रीकी अमेरिकियों द्वारा प्रदर्शन जारी रहने के कारण, कानून में कई बदलाव कर विरोध को दबाने की कोशिश की गयी थी। बाद में इस कार्रवाई की अपमानजनक और नस्लवादी होने के कारण आलोचना भी हुई।
  • परिणामस्वरूप, इस साल जून में इस स्वतंत्रता महोत्सव को भी काफी महत्व मिला और 1865 में अश्वेत लोगों पर हुए अत्याचार और गुलामी से मिली स्वतंत्रता को लोगों ने याद किया।