यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (विषय: फ्रेट स्मार्ट सिटी पहल (Freight Smart City Initiative)

यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए ब्रेन बूस्टर (Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


यूपीएससी और राज्य पीसीएस परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स ब्रेन बूस्टर (Current Affairs Brain Booster for UPSC & State PCS Examination)


विषय (Topic): फ्रेट स्मार्ट सिटी पहल (Freight Smart City Initiative)

फ्रेट स्मार्ट सिटी पहल (Freight Smart City Initiative)

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में भारत सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने फ्रेट स्मार्ट सिटी (Freight smart city) के लिये योजना को सामने रखा है।

प्रमुख बिन्दु

  • इस योजना के तहत शुरू में सरकार 10 शहरों को फ्रेट स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करेगी। अगले चरण में 75 शहरों तक विस्तारित करने की योजना है, जिसके बाद इसका विस्तार पूरे देश में किया जायेगा जिसमें सभी राज्यों की राजधानियों और दस लाख से अधिक आबादी वाले शहर शामिल होंगे। हालांकि शहरों की चुनी जाने वाली सूची को राज्य सरकारों के परामर्श से अंतिम रूप दिया जायेगा।
  • उल्लेखनीय है कि बढ़ते शहरीकरण के साथ, ई-कॉमर्स और इसमें सामान की उत्पादन केंद्रों से ग्राहक तक आवाजाही सहित तेज आर्थिक विकास की जरूरतें भारतीय शहरों में बढ़ती भीड़-भाड़, शोर और ध्वनि प्रदूषण एक संकट हैं जो सार्वजनिक स्वास्थ्य और स्थानीय अर्थव्यवस्था दोनों को प्रभावित कर रहा है। इसलिए वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत लॉजिस्टिक्स डिवीजन ने शहरों में माल ढुलाई गतिविधियों को सुधारने के लिये योजनाबद्ध तरीके से काम करने का फैसला किया है।
  • इसके अलावा, यह भी अनुमान है कि शहरी माल ढुलाई की मांग अगले 10 वर्षों में 140 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है। वर्तमान में भारतीय शहरों में ग्राहकों तक सामान पहुंचाने के अंतिम चरण में माल ढुलाई गतिविधियों की लागत भारत की बढ़ती ई-कॉमर्स आपूर्ति श्रृंखला की कुल लागत का 50 प्रतिशत है। इसलिए शहरों के लॉजिस्टिक्स में सुधार माल ढुलाई गतिविधियों को और भी बेहतर बनायेगा, जिससे अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों को बढ़ावा मिलेगा।

फ्रेट स्मार्ट सिटी पहल के बारे में

  • फ्रेट स्मार्ट सिटीज पहल के तहत शहर स्तर पर लॉजिस्टिक्स समितियों का गठन किया जायेगा। इन समितियों में संबंधित सरकारी विभाग और स्थानीय स्तर की एजेंसियां, राज्य और प्रतिक्रिया देने वाले केंद्रीय मंत्रालय और एजेंसियां शामिल होंगी। इनमें लॉजिस्टिक्स सेवाओं से जुड़ा निजी क्षेत्र और साथ ही लॉजिस्टिक्स सेवाओं के उपयोगकर्ता भी शामिल होंगे। ये समितियां स्थानीय स्तर पर प्रदर्शन सुधारने के उपायों को लागू करने के लिए मिल जुल कर शहर की लॉजिस्टिक्स योजनाओं को तैयार करेंगी।
  • फ्रेट स्मार्ट सिटी पहल (Freight smart city initiatives) के तहत निम्नलिखित सुविधाएं विकसित की जाएंगी-
  • ˆफ्रेट सेंटर,
  • रात के समय डिलीवरी,
  • ट्रक रूट,
  • इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम
  • आधुनिक तकनीकों का उपयोग,
  • शहरी माल ढुलाई में विद्युतीकरण को बढ़ावा देना,
  • पार्सल डिलीवरी टर्मिनल।

स्मार्ट सिटीज मिशन

  • भारत सरकार ने 25 जून 2015 को स्मार्ट सिटीज मिशन (Smart City Mission) की शुरुवात की थी। स्मार्ट सिटीज मिशन भारत में 100 शहरों के निर्माण के लिए एक शहरी विकास योजना है। स्मार्ट शहरों में उनकी सबसे अधिक जरूरतों वाली वस्तुओ और जीवन को बेहतर बनाने के बड़े अवसरों पर ध्यान किया गया है। स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत उन शहरों को बढ़ावा दिया गयाहै जो कोर इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रदान करते हैं और अपने नागरिकों को एक स्वच्छ और टिकाऊ वातावरण और ‘स्मार्ट ’समाधानों के उपयोग के लिए एक सभ्य गुणवत्ता प्रदान करते हैं।