(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (16 दिसंबर 2019)

दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर


(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (16 दिसंबर 2019)


:: राष्ट्रीय समाचार ::

विजय दिवस: 16 दिसम्बर

  • 16 दिसम्बर 1971 यानि आज का दिन भारत के लिए विजय दिवस कहलाता है। आज के दिन ही वर्ष 1971 में भारत-पाक युद्ध के दौरान 16 दिसंबर को ही भारत ने पाकिस्तान पर विजय हासिल की थी और उसी जीत को पूरा हिन्दुस्तान 'विजय दिवस' के रूप में मनाता है।

पृष्टभूमि

  • वर्ष 1971 में हुए इस भारत-पाक युद्ध में पाकिस्तानी सेना पराजित हुई थी और 16 दिसंबर 1971 को ढाका में 93000 पाकिस्तानी सैनिकों ने आत्मसमर्पण कर दिया था। इस युद्ध के 12 दिनों में अनेक भारतीय जवान शहीद हुए और हजारों घायल हो गए। पाक सेना का नेतृत्व कर रहे लेफ्टिनेंट जनरल एके नियाजी ने अपने 93 हजार सैनिकों के साथ भारतीय सेना के कमांडर ले. जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा के सामने आत्मसमर्पण कर हार स्वीकार की थी।
  • भारत-पाक युद्ध के समय जनरल सैम मानेकशॉ भारतीय सेना के प्रमुख थे। इस जंग के बाद बांग्लादेश के रूप में विश्व मानचित्र पर नये देश का उदय हुआ। तक़रीबन 3,900 भारतीय जवान इस जंग में शहीद हुए और 9,851 जवान घायल हुए।

राष्ट्रीय गंगा परिषद

  • प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के कानपुर में राष्ट्रीय गंगा परिषद की प्रथम बैठक की अध्यक्षता की। परिषद को गंगा और उसकी सहायक नदियों सहित गंगा नदी बेसिन के प्रदूषण निवारण और कायाकल्प का समग्र उत्‍तरदायित्‍व भी सौंप दिया गया। परिषद की प्रथम बैठक का उद्देश्य संबंधित राज्यों के सभी विभागों के साथ-साथ केंद्रीय मंत्रालयों में गंगा केंद्रित दृष्टिकोण के महत्व पर विशेष रूप से ध्‍यान देना शामिल है।

अभ्यास मित्र शक्ति-VII

  • भारतीय सेना और श्रीलंकाई सेना के बीच संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास- मित्र शक्ति- का सातवां संस्करण 14 दिसंबर को पुणे के औंध सैन्य स्टेशन पर संपन्न हुआ। दो सप्ताह तक चला यह अभ्यास 01 दिसंबर को शुरू हुआ था और संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत आतंकवाद निरोधी अभियानों में संयुक्त अभियान शुरू करने की क्षमता विकसित करने एवं बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए किया गया।
  • इस तरह के द्विपक्षीय सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास का आयोजन शांति, समृद्धि, अंतर्राष्ट्रीय भाईचारे और विश्वास बनाए रखने की दुशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह अभ्यास पूर्णत: सफल रहा और इसमें भाग लेने वाले देशों के सैनिकों को बहुमूल्य सबक भी प्राप्त हुआ है।

:: अंतर्राष्ट्रीय समाचार ::

International Tea Day: अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस

  • 15 दिसंबर को दुनिया भर के चाय उत्पादन करने वाले देशों द्वारा अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस (International Tea Day 2019) मनाया जा रहा है। हालांकि भारत की सिफारिश पर संयुक्त राष्ट्र (UN) ने 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित किया है। 4 साल पहले मिलान में हुई अंतरराष्ट्रीय खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) के अंतर सरकारी समूह की बैठक में भारत ने यह प्रस्ताव पेश किया था। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने चाय के औषधीय गुणों के साथ सांस्कृतिक महत्व को भी मान्यता दी है। अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस की शुरुआत 15 दिसंबर 2005 को नई दिल्ली से हुई लेकिन एक वर्ष बाद यह श्रीलंका में मनाया गया और वहां से विश्व भर में फैला।
  • ग्रामीण अर्थव्यवस्था में चाय के योगदान को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए भारत के इस प्रस्ताव पर संयुक्त राष्ट्र ने मुहर लगाई थी। यूएन के मुताबिक 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित करने से इसके उत्पादन और खपत को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी, जो ग्रामीण क्षेत्रों में भूख और गरीबी से लड़ने में मददगार साबित होगी।
  • इतना ही नहीं संयुक्त राष्ट्र ने सभी सदस्य देशों, अंतरराष्ट्र्रीय और क्षेत्रीय संगठनों से अपील की है कि वह हर साल 21 मई को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस मनाएं। जहां तक 15 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस मनाने की बात है तो भारत, नेपाल, बांग्लादेश, इंडोनेशिया, श्रीलंका, तंजानिया के अलावा कई और देश इसे मना रहे हैं। हालांकि यूएन द्वारा मई का महीना इसलिए चुना गया, क्योंकि चाय उत्पादन के लिए यह महीना सबसे बेहतर माना जाता है।
  • साल 2018 में एफएओ द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में काली चाय का उत्पादन 2027 तक बढ़कर 44 लाख टन हो जाने का अनुमान है जो 2017 में 33।3 लाख टन था। वहीं ‘ ग्रीन टी’ का उत्पादन 36 लाख टन हो जाने का अनुमान है जो साल 2017 में 17.7 लाख टन था।
  • दुनिया के दूसरे सबसे बड़ा उत्पादक भारत में काली चाय का उत्पादन 2027 तक 16.1 लाख टन रहने का अनुमान है जो 2017 में 12.6 लाख टन था। वहीं दुनिया का सबसे बड़ा उत्पादक चीन में ‘ ग्रीन टी ’ का उत्पादन 2027 तक 33.1 लाख टन होने का अनुमान है जो 2017 में 15.2 लाख टन था।

एनआरसी / बांग्लादेश अवैध तरीके से भारत में रह रहे अपने नागरिकों को वापस लेगा

  • बांग्लादेश ने भारत से अपील की है कि वह देश में अवैध तरीके से रह रहे बांग्लादेशियों की लिस्ट साझा करे। विदेश मंत्री अब्दुल मोमेन ने रविवार को कहा कि सरकार भारत में अवैध तरीके से रह रहे बांग्लादेशियों को लौटने की अनुमति देगी। भारत-बांग्लादेश के बीच रिश्तो में काफी मिठास है और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजनशिप (एनआरसी) की वजह से उस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। मोमेन के मुताबिक, भारत पहले ही एनआरसी को अंदरूनी मुद्दा बता चुका है। ऐसे में बांग्लादेश का इस पर कोई असर नहीं होगा।
  • बांग्लादेशी विदेश मंत्री ने उन रिपोर्ट्स को भी झुठलाया, जिनमें भारत की तरफ से जबरदस्ती लोगों को बांग्लादेश भेजने की बात कही गई। मोमेन ने कहा कि अगर बांग्लादेशियों के अलावा कोई और बांग्लादेश में घुसने की कोशिश करेगा, तो हम उन्हें वापस भेज देंगे। उन्होंने बताया कि नई दिल्ली से मांग की गई है कि वह देश में रह रहे अवैध बांग्लादेशियों की लिस्ट साझा करे। हम उन्हें लौटने का मौका देंगे।

पृष्टभूमि

  • इससे पहले कहा जा रहा था कि बांग्लादेश के विदेश और गृह मंत्री असदुज्जमान खान ने भारत के नागरिकता संशोधन कानून की वजह से भारत दौरा रद्द किया है। हालांकि, इस पर बांग्लादेश की तरफ से कोई बयान नहीं आया था।
  • असम में एनआरसी लिस्ट बनाने के भारत सरकार के फैसले पर भी बांग्लादेश की तरफ से नाराजगी जताई गई थी। हालांकि, तब कहा गया था कि यह भारत का अंदरूनी मसला है। एनआरसी में करीब 3.3 करोड़ आवेदक थे। इनमें से 19 लाख लोगों को आखिरी एनआरसी लिस्ट से बाहर कर दिया गया था। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने इस मुद्दे को न्यूयॉर्क में प्रधानमंत्री मोदी के साथ द्विपक्षीय बैठक में भी उठाया था।

'पाकिस्तान: धार्मिक स्वतंत्रता पर हमला' रिपोर्ट

  • पाकिस्तान में धार्मिक स्वतंत्रता की स्थिति लगातार खराब हो रही है। कट्टरपंथी विचाधारा के कारण वहां हिंदू समेत अन्य अल्पसंख्यक वर्ग के लोग सुरक्षित नहीं हैं। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की एक ताजा रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ। पाकिस्तान में इमरान खान के सत्ता में आने के बाद अल्पसंख्यकों को प्रताड़ित करने के मामले बढ़े हैं। संयुक्त राष्ट्र में महिलाओं की स्थिति पर आयोग (सीएसडब्ल्यू) ने ‘पाकिस्तान: धार्मिक स्वतंत्रता पर हमला’ शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की। 47 पन्नों की इस रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में इमरान खान सरकार अल्पसंख्यकों पर हमले के लिए कट्टरपंथी विचारों को बढ़ावा दे रही है।
  • अल्पसंख्यक खासकर हिंदू और ईसाई समुदाय सबसे ज्यादा खतरे में हैं। हर साल इन दोनों समुदायों की सैकड़ों महिलाओं और बेटियों को अगवा कर धर्म परिवर्तन कराया जाता है। उन्हें मुस्लिम पुरुषों से शादी करने के लिए मजबूर किया जाता है। मुस्लिम युवकों से शादी होने के बाद अपहरणकर्ताओं द्वारा दी गई गंभीर धमकियों के चलते पीड़िताओं के परिवार के पास लौटने की कोई उम्मीद नहीं होती है। हिंदू लड़कियों और महिलाओं को व्यवस्थित रूप से लक्षित किया जाता है क्योंकि वे कम आर्थिक पृष्ठभूमि से आती हैं व शिक्षित हैं। सीएसडब्ल्यू ने अल्पसंख्यक बच्चों का साक्षात्कार लिया। बच्चों ने स्वीकार किया कि उन्हें शिक्षकों व सहपाठियों द्वारा अपमानित किया जाता है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी इस रिपोर्ट में पाकिस्तान की पुलिस और न्याय व्यवस्था पर भी गंभीर सवाल खड़े किए गए हैं। इसमें कहा गया कि पीड़ित अल्पसंख्यकों के प्रति पाकिस्तान पुलिस और देश की न्यायपालिका भी भेदभावपूर्ण रवैया अपनाते हैं। अगवा की गई अल्पसंख्यक महिलाओं के मामले में पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं करती है। पुलिस और न्यायपालिका अल्पसंख्यकों को दोयम दर्जे का नागरिक मानती है।
  • सीएडब्ल्यू ने पाकिस्तान में ईशनिंदा और अहमदिया विरोधी कानून के बढ़ते राजनीतिकरण पर चिंता जताई है। रिपोर्ट में कहा गया कि पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून का लोग अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ईशनिंदा कानून और उसके ऊपर बढ़ते कट्टरवाद की वजह से देश में सामाजिक सौहार्द को भारी नुकसान पहुंचा है। ईशनिंदा के संवेदनशील
  • मामलों की वजह से धार्मिक उन्माद भड़कता है और इससे पाक में भीड़ हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं। आयोग ने रिपोर्ट में अल्पसंख्यकों के हालात दर्शाते हुए उदाहरण दिया कि मई, 2019 में सिंध के मीरपुरखास के हिंदू पशुचिकित्सा अधिकारी रमेश कुमार मल्ही पर कुरान के पन्नों में दवाई लपेटने का आरोप लगाया गया था। इसके चलते प्रदर्शनकारियों ने पशु चिकित्सा क्लिनिक और हिंदू समुदाय से संबंधित अन्य दुकानें जला दीं थीं। आयोग ने ईशनिंदा कानून का विरोध किया, जो अल्पसंख्यक को इस्लाम का अपमान करने के आरोप में अपराधी बना देता है।
  • पाकिस्तान सरकार ने अपने देश में चल रहे अल्पसंख्यकों के जबरन धर्म परिवर्तन पर अंकुश लगाने को नवंबर में एक संसदीय समिति गठित की। यह 22 सदस्यीय समिति कट्टर मुस्लिम बहुल देश में अल्पसंख्यकों का जबरन धर्म परिवर्तन रोकने और उनके अधिकारों का संरक्षण करने वाले एक कानून का खाका तैयार करेगी। हालांकि, अभी तक कानून बन नहीं सका है।
  • यूएन की रिपोर्ट से पहले पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट में कहा गया कि वर्ष 2018 में यहां अपनी आस्था के मुताबिक जिदंगी गुजारने पर अल्पसंख्यकों ने उत्पीड़न का सामना किया, उन्हें गिरफ्तार किया गया। हिंदू-ईसाई महिलाओं से बलात्कार किया गया। यहां तक की कई मामले में उनकी मौत भी हुई।

:: भारतीय राजव्यवस्था ::

दुष्कर्म मामलों में दोषसिद्धि की दर

  • निर्भया दुष्कर्म मामले को सात साल का लंबा वक्त बीत चुका है। दुष्कर्म के कई मामलों ने देश को झकझोरा और लोगों ने सड़कों पर निकलकर अपना विरोध जताया। इस बीच कानून और सुरक्षा चौकसी को मजबूत किए जाने के दावे होते रहे, लेकिन महिलाएं निर्भय न हो सकीं। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के अनुसार देश में दुष्कर्म के करीब 32.2 फीसद मामले ऐसे हैं जिनमें दोषसिद्धि हो पाती है। बाकी मामलों में आरोपित छूट जाते हैं।
  • एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक, 2017 में दुष्कर्म के कुल मामले जो ट्रायल के लिए गए उनकी संख्या एक लाख 46 हजार 201 थी, लेकिन इनमें से केवल 5 हजार 822 मामलों में ही दोषसिद्धि हो सकी। चार्जशीट पेश करने की दर में भी गिरावट दर्ज की गई है। 2017 में चार्जशीट पेश करने की दर 86.6 फीसद रही जो 2013 में 95.4 फीसद थी।

बिना कोर्ट पहुंचे कैसे होगा न्याय

  • यह आंकड़े चिंताजनक इसलिए हैं कि दुष्कर्म मामलों में दोषसिद्धि की दर में मामूली सा इजाफा हुआ है लेकिन चार्ज शीट दर में गिरावट दर्ज की गई है। यह इसलिए भी चिंताजनक है कि जब मामले कोर्ट तक जाएंगे ही नहीं तो न्याय कैसे होगा?

इसलिए नहीं होती दोषसिद्धी

  • चर्चित अलवर दुष्कर्म केस में एक विदेशी महिला के साथ ओडिशा के पूर्व डीजीपी बीबी मोहंती के बेटे बिट्टी मोहंती ने दुष्कर्म किया था। इस मामले में बचाव पक्ष की वकील रहीं शिल्पा जैन के अनुसार पुलिस के फील्ड लेवल स्टॉफ को दुष्कर्म मामलों की जांच के लिए ज्यादा प्रभावी बनाने की आवश्यकता है। वे अप्रशिक्षित होते हैं, ताकत उनके हाथों में होती है और ज्यादातर मामलों में वे भ्रष्ट होते हैं। उसी प्रकार से, जिला स्तर पर अभियोजन पक्ष कम क्षमता और कम योग्य होता हैं। यह सभी कारक मिलकर कम दोषसिद्धि की वजह बनते हैं।

निर्भया के बाद जागा प्रशासन

  • निर्भया दुष्कर्म मामले के एक सप्ताह बाद यौन उत्पीड़न मामलों से कठोरता से निपटने के लिए जस्टिस जेएस वर्मा कमेटी को आपराधिक मामलों की समीक्षा के लिए गठित किया गया। कमेटी ने एक महीने में अपनी रिपोर्ट दे दी। इसी के आधार पर आपराधिक कानून संशोधन अधिनियम 2013 में दुष्कर्म के लिए सबसे बड़ी सजा फांसी या फिर उम्रकैद का प्रावधान किया गया। 03 फरवरी 2013 को आपराधिक कानून संशोधन अध्यादेश 2013 को देश के तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अनुमोदित किया। यह अध्यादेश दुष्कर्म के मामले में मौत की सजा का प्रावधान करता है।

किशोरों से सख्ती

  • किशोर न्याय (बच्चों की देखरेख व सुरक्षा) अधिनियम 2015 को भी संसद ने पारित किया। इसमें 16 से 18 साल का किशोर यदि जघन्य अपराध में लिप्त पाया जाता है तो उस पर एक वयस्क की तरह व्यवहार किया जाएगा।

:: भारतीय अर्थव्यवस्था ::

PAN-Aadhaar link

  • स्थायी खाता संख्या (पैन) को इस साल 31 दिसंबर तक आधार से अनिवार्य रूप से जोड़ना होगा। आयकर विभाग ने रविवार को इस बारे में सार्वजनिक सूचना जारी की है। आयकर सेवाओं का लाभ लेने को पैन को आधार से जोड़ने का काम 31 दिसंबर, 2019 तक पूरा कर लें। सूचना में कहा गया है कि पैन को आधार से जोड़ना अनिवार्य है।

पृष्टभूमि

  • केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने सितंबर में जारी आदेश में पैन को आधार से जोड़ने की समयसीमा बढ़ाकर 31 दिसंबर की थी। इससे पहले यह समयसीमा 30 सितंबर थी। सीबीडीटी आयकर विभाग के लिए नीति बनाता है। उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल सितंबर में केंद्र की प्रमुख आधार योजना को संवैधानिक रूप से वैध ठहराते हुए व्यवस्था दी थी कि आयकर रिटर्न दाखिल करने और पैन के आवंटन के लिए बायोमीट्रिक पहचान संख्या अनिवार्य रहेगी। आयकर कानून की धारा 139 एए (2) कहती है कि जिस भी व्यक्ति के पास एक जुलाई, 2017 तक पैन है और वह आधार हासिल करने के पात्र है तो उसे अपने आधार नंबर की जानकारी आयकर विभाग को अवश्य देनी होगी।

मोबाइल नम्बर पोर्टेबिलिटी

  • सोमवार से लागू हो रहे ट्राई के नए नियम के मुताबिक 6.46 रु. की फीस देकर महज 3 दिन में मोबाइल नंबर पोर्ट हो सकेगा। पात्र ग्राहकों का यूनिक पोर्टिंग कोड (यूपीसी) जेनरेट किया जाएगा। इसके लिए पोस्टपेड ग्राहकों का भुगतान बकाया न होना, कनेक्शन 90 दिन तक पुराना होना जरूरी होगा।
  • नई व्यवस्था लागू होने के बाद अगर कोई व्यक्ति एमएनपी कराता है तो इसकी प्रक्रिया 2 कामकाजी दिवस में पूरी होगी। वहीं एक सर्किल से दूसरी सर्किल के लिए नंबर पोर्टेबिलिटी के आग्रह को 5 दिन में पूरा किया जाएगा। फिलहाल यह प्रक्रिया पूरी होने में 7 दिन का समय लगता है।
  • पोस्ट पेड मोबाइल कनेक्शन के मामले में ग्राहक को अपने बकाए के बारे में संबंधित ऑपरेटर से प्रमाण लेना होगा। इसके अलावा मौजूदा आपरेटर के नेटवर्क पर उसे कम से कम 90 दिन तक सक्रिय रहना होगा। लाइसेंस वाले सेवा क्षेत्रों में यूपीसी चार दिन के लिए वैध होगा। वहीं जम्मू-कश्मीर, असम और पूर्वोत्तर सर्किलों में यह 30 दिन तक वैध रहेगा। नई प्रक्रिया के नियम तय करते हुए ट्राई ने कहा कि विभिन्न शर्तों के सकारात्मक अनुमोदन से ही यूपीसी का सृजन तय होगा।

क्या है मोबाइल नम्बर पोर्टेबिलिटी?

  • मोबाइल नम्बर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) के तहत उपभोक्ताओं को अपना मोबाइल नम्बर बदले बिना सेवा प्रदाता कम्पनी बदलने की सुविधा मिलती है। भारत में यह सेवा 20 जनवरी 2011 को लागू की गई थी। मोबाइल नम्बर पोर्टेबिलिटी के लिए 2 दिन का समय लगता है। अगर कोई ऑपरेटर इससे ज्यादा समय लेता है तो उस पर ट्राई द्वारा 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है।

:: विज्ञान और प्रौद्योगिकी ::

लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान (एसएसएलवी)

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान (SSLV-एसएसएलवी) का विकास कर रहा है और इस परियोजना के लिये सरकार को संसद से 11.97 करोड़ रुपये के प्रस्ताव पर मंजूरी मिल गई है।
  • लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान (एसएसएलवी) का विकास छोटे वाणिज्यिक उपग्रहों को पृथ्वी की निचली कक्षा में स्थापित करने के मकसद से किया जा रहा है। इसकी अनुमानित लागत 30 करोड़ रुपये है। इसकी पहली उड़ान अगले साल के प्रारंभ में होने की संभावना है।

पृष्टभूमि

  • इसरो की वेबसाइट से प्राप्त जानकारी के अनुसार, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने अब तक 33 देशों के 319 उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजा है। इन देशों में अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, कोरिया, कनाडा, जर्मनी, बेल्जियम, इटली, फिनलैंड, इजराइल जैसे देश शामिल हैं। इंस्टीट्यूट आफ डिफेंस रिसर्च एंड एनालिसिस के वरिष्ठ फेलो कैप्टन अजय लेले ने बताया कि "इसरो अपने अधिकांश उपभोक्ताओं के उपग्रहों का प्रक्षेपण ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपन यान के जरिये करता है। हालांकि घरेलू प्रतिबद्धताओं एवं विभिन्न प्रकार के उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजने की योजना को आगे बढ़ाने के क्रम में इस पर भार बढ़ता है।"
  • कई बार नैनो उपग्रहों को भी पीएसएलवी के माध्यम से ही प्रक्षेपित किया जाता है। ऐसे में इसरो को लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान (एसएसएलवी) का विकास करने की जरूरत महसूस हुई। यह इस दिशा में भी महत्वपूर्ण है कि आने वाले समय में इसरो उपग्रह प्रक्षेपण के वृहद बाजार में अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज कराना चाहता है। विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एस सोमनाथ ने हाल ही में कहा था कि लघु उपग्रह प्रक्षेपण वाहन के माध्यम से छोटे उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजा जाना सुगम होगा और इसके माध्यम से प्रक्षेपण ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) की तुलना मे कम खर्चीला होगा। इसके माध्यम से 500 किलोग्राम भार तक के उपग्रह को निचली कक्षा में स्थापित किया जा सकेगा।

वलयाकार सूर्यग्रहण

  • साल का अंतिम सूर्यग्रहण आग के छल्ले के समान वलयाकार होगा। भारत में दस वर्ष बाद वलयाकार सूर्यग्रहण लगने जा रहा है। यह दुर्लभ खगोलीय घटना दक्षिण भारत के कुछ ही क्षेत्रों में देखा जा सकेगा जबकि अन्य हिस्सों से आंशिक सूर्यग्रहण नजर आएगा।
  • आर्यभटट् प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीज) के पूर्व निदेशक डॉ. वहाबउद्दीन ने बताया कि 26 दिसंबर को लग रहा सूर्यग्रहण सुबह करीब आठ बजे शुरू हो जाएगा और दोपहर बाद 1.35 बजे समाप्त हो जाएगा। वलायाकार सूर्यग्रहण देखने में बेहद सुंदर नजर आता है। इसमें चंद्रमा सूर्य को पूरी तरह ढक नहीं पाता है।

'रिंग ऑफ फायर'

  • इस ग्रहण में सूर्य का अंदरूनी भाग तो छिप जाता है, लेकिन बाहरी भाग खुला रह जाता है। जिसके चलते यह आग के छल्ले के समान नजर आने लगता है और देखने में मनमोहक लगता है। इस ग्रहण को 'रिंग ऑफ फायर' भी कहा जाता है। भारत में वलयाकार ग्रहण तमिलनाडु, केरल व बेंगलुरू के कन्नूर, कोजिकोड, कोयंबटूर, डिंगीगुना, मदुरई व थनजावुर में नजर आएगा, जबकि देश के शेष हिस्सों में आंशिक दिखेगा।

सूर्यग्रहण

  • पृथ्वी व चंद्रमा के बीच की दूरी के बढऩे से वलयाकार ग्रहण होता है। जिसमें चंद्रमा व धरती की दूरी इतनी अधिक होती है कि चंद्रमा सूर्य को पूर्णरूप से ढक नही पाता है और जब धरती के नजदीक होता है तो उसका आभासीय आकार बड़ा होता है, जो सूर्य को पूरी तरह से ढक लेता है। तब पूर्ण सूर्यग्रहण बनता है। चंद्रमा धरती के जितने करीब होगा पूर्ण सूर्यग्रहण की अवधि भी उतनी ही अधिक होगी।
  • सूर्यग्रहण चार प्रकार के होते हैं। आंशिक, पूर्ण, वलयाकार व हाईब्रीड। अलग-अलग परिस्थितियों में यह ग्रहण बनते हैं। वैज्ञानिक दृष्टिï से पूर्ण सूर्यग्रहण सर्वाधिक महत्वपूर्ण होता है। जिसमें सूर्य के रहस्यों को वैज्ञानिक समझने के लिए अध्ययन करते हैं। वलयाकार ग्रहण के दौरान धरती व चंद्रमा के बीच की दूरी की गणना व आकार आदि वैज्ञानिकों के लिए महत्वपूर्ण होते हैं।

रोबोट सुरेना

  • ईरान के तेहरान विश्वविद्यालय ने एक ऐसा रोबोट बनाया है, जो 100 भाषाओं को बोल सकता है। इतना ही भाषाओं को समझकर यह अनुवाद कर सकता है। यह चेहरों को पहचान सकता है और फुटबॉल को किक लगा सकता है। रिपोर्ट के अनुसार, विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग ने चार साल में इस रोबोट को तैयार किया है।
  • इसका नाम 'सुरेना' रखा गया है। यह चीजों को उठा सकता है। 100 अलग-अलग वस्तुओं को पहचान सकता है। इसे चेहरों को पहचाने में भी 'महारत' हासिल है। यह हाथ मिलाकर लोगों का अभिवादन भी कर सकता है।
  • रोबोट सुरेना 170 सेंटीमीटर लंबा और 70 किलोग्राम वजनी है। एक घंटे में 700 मीटर चलने में सक्षम है। उबड़-खाबड़ जमीन पर यह आगे-पीछे और दाएं-बाएं मुड़कर संतुलन बनाए रख सकता है। इसके अलावा भी इसमें मनुष्यों के समान कई गुण हैं।

:: विविध ::

मिस वर्ल्ड 2019: टोनी एन सिंह

  • जमैका के टोनी-एन सिंह को मिस वर्ल्ड 2019 (Miss World 2019) चुना गया है। लंदन में आयोजित इस सौंदर्य स्पर्धा में भारत की सुमन राव तीसरे स्थान पर रहीं। मिस वर्ल्ड 2018 मेक्सिको की वैनेसा पोंस ने टोनी सिंह को ताज पहनाया। फ्रांस की ओपेली मेज़िनो पहली रनर अप रहीं।
  • लंदन में आयोजित हुई मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में राजस्थान की रहने वाली सुमन रतन सिंह राव ने तीसरा स्थान हासिल किया है। सुमन ने मिस वर्ल्ड एशिया 2019 का ताज अपने नाम किया है। राजस्थान की 20 वर्षीय सुमन राव ने जून में मिस इंडिया 2019 प्रतियोगिता जीती थी।

बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स

  • दुनिया के नंबर-1 पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी जापान के केंटो मोमोटा ने रविवार को बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब जीत लिया। मोमोटा का साल का यह 11वां खिताब है। इस साल इस जापानी खिलाड़ी ने अगस्त में बासेल में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप खिताब भी जीता था।
  • चीन की चेन यू फेई ने दुनिया की नंबर-1 महिला बैडमिंटन खिलाड़ी चीनी ताइपे की ताई जू यिंग को हराकर रविवार को बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब जीत लिया।

बांग्लादेश इंटरनेशनल चैलेंज टूर्नामेंट

  • भारत के युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए रविवार (15 दिसंबर) को बांग्लादेश इंटरनेशनल चैलेंज टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया।

:: प्रिलिम्स बूस्टर ::

  • किस तिथि को विजय दिवस मनाया जाता है? (16 दिसंबर)
  • किन देशों के मध्य संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास ‘मित्र-शक्ति’ का आयोजन किया गया? (भारत और श्रीलंका)
  • राष्ट्रीय गंगा परिषद की प्रथम बैठक का आयोजन कहां किया गया? (कानपुर- उत्तर प्रदेश)
  • संयुक्त राष्ट्र के द्वारा किस तिथि को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस घोषित किया गया है? (21 मई)
  • दुनिया भर के चाय उत्पादक देशों के द्वारा किस तिथि को अंतरराष्ट्रीय चाय दिवस मनाया गया? (15 दिसंबर)
  • किस संस्था के द्वारा ‘पाकिस्तान: धार्मिक स्वतंत्रता पर हमला’ शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की गई? (संयुक्त राष्ट्र में महिलाओं की स्थिति पर आयोग -सीएसडब्ल्यू)
  • किस समय सीमा के अंदर आधार एवं स्थाई खाता संख्या( पैन कार्ड) को अनिवार्य रूप से जोड़ना होगा? (31 दिसंबर 2019)
  • हाल ही में लागू हुए ट्राई के नए नियम के अनुसार न्यूनतम कितने दिनों में मोबाइल नंबर को पोर्ट कराया जा सकेगा? (3 दिन)
  • नैनो और लघु उपग्रहों को अंतरिक्ष में स्थापित करने हेतु भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के द्वारा किसने प्रक्षेपण यान का विकास किया जा रहा है? (लघु उपग्रह प्रक्षेपण यान-SSLV)
  • किस देश के विश्वविद्यालय के द्वारा 100 से ज्यादा भाषाओं को बोलने वाले रोबोट सुरेनाको विकसित किया गया है? (तेहरान विश्वविद्यालय- ईरान)
  • मिस वर्ल्ड 2019 का खिताब किसके द्वारा अपने नाम किया गया? (टोनी-एन सिंह)
  • हाल ही में किस देश की प्रतिभागी का चयन मिस वर्ल्ड 2019 के लिए किया गया? (जमैका)
  • मिस वर्ल्ड कप 2019 में मिस वर्ल्ड एशिया 2019 का ताज किसने अपने नाम किया? (सुमन राव)
  • हाल ही में किस पुरुष खिलाड़ी ने बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब अपने नाम किया? (केंटो मोमोटा)
  • हाल ही में किस महिला खिलाड़ी ने बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब अपने नाम किया? (चेन यू फेई)
  • भारत के किस युवा बैडमिंटन खिलाड़ी ने बांग्लादेश इंटरनेशनल चैलेंज टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया? (लक्ष्य सेन)

स्रोत साभार: Dainik Jagran (Rashtriya Sanskaran), Dainik Bhaskar (Rashtriya Sanskaran), Rashtriya Sahara (Rashtriya Sanskaran) Hindustan Dainik (Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times (Hindi & English), PTI, PIB

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिये यहां क्लिक करें