(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (1 जून 2020)

दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर


(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (1 जून 2020)


:: राष्ट्रीय समाचार ::

माई लाइफ माई योगा (जीवन योगा)

  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित अपने मासिक मन की बात संबोधन के दौरान सभी लोगों से आयुष मंत्रालय एवं भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) द्वारा एक संयुक्त प्रयास ‘माई लाइफ माई योगा ‘ वीडियो ब्लौगिंग प्रतियोगिता में भाग लेने की अपील की।
  • यह प्रतियोगिता व्यक्तियों के जीवन पर योग के रूपांतरकारी प्रभाव पर फोकस करता है और आगामी 21 जून, 2020 को मनाये जाने वाले छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई) से संबंधित कार्यकलापों में से एक है। यह प्रतियोगिता आज, 31 मई, 2020 को आयुष मंत्रालय के सोशल मीडिया हैंडल्स पर लाइव हो गई है।

खेलो इंडिया ई-पाठशाला

  • भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ‘ग्रासरूट’ के खिलाड़ियों को पहली बार राष्ट्रीय स्तर की ओपन ऑनलाइन कोचिंग और शिक्षा कार्यक्रम उपलब्ध कराने के लिये एक जून से राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) के साथ मिलकर खेलो इंडिया ई-पाठशाला शुरू करेगा। खेल मंत्री कीरेन रीजीजू और केंद्रीय आदिवासी कल्याण मंत्री एवं भारतीय तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष अर्जुन मुंडा एक जून को सुबह नौ बजे वेबिनार के जरिये इस कार्यक्रम का उदघाटन करेंगे।
  • इसमें तीरंदाज, तीरंदाजी कोच और इस खेल के विशेषज्ञ भी हिस्सा लेंगे। इस कार्यक्रम में 21 खेलों को शामिल किया गया हैं। इनमें एथलेटिक्स, तीरंदाजी, मुक्केबाजी, साइकिलिंग, तलवारबाजी, फुटबॉल, जिम्नास्टिक, हॉकी, जूडो, कयाकिंग एवं कैनोइंग, कबड्डी, पैरा खेल, रोइंग, निशानेबाजी, ताइक्वांडो, टेबल टेनिस, वॉलीबॉल, भारोत्तोलन, कुश्ती और वुशु शामिल हैं। ई-पाठशाला में दिग्गज खिलाड़ी अपने तकनीकी कौशल का प्रदर्शन करेंगे ओर युवा खिलाड़ियों से बात करके उनकी तकनीकी और संपूर्ण खेल में सुधार करने में मदद करेंगे।

राष्ट्रीय एआई पोर्टल और 'रिस्पॉन्सिबल एआई फॉर यूथ' कार्यक्रम

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में श्री रविशंकर प्रसाद ने भारत के राष्ट्रीय आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पोर्टल और 'रिस्पॉन्सिबल एआई फॉर यूथ' कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

क्या होता है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-AI?

  • साधारण शब्दों में AI का मतलब है इंसान की सोचने, समझने एवं भावनाओं को मशीनों के अंदर डाल देना। दूसरे शब्दों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक है जिसके तहत मशीनों को इंसानों की तरह सोचने, निर्णय लेने, समस्या समाधान और सीखने की क्षमता का विकास करना है।

क्या है राष्ट्रीय आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पोर्टल?

  • इस पोर्टल को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय (MeitY) और आईटी उद्योग द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। MeitYका राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिवीजन और आईटी उद्योग का नैसकॉम संयुक्त रूप से मिलकर इस पोर्टल को चलाएगा। यह पोर्टल भारत में एआई से संबंधित विकास के लिए एक स्टॉप डिजिटल प्लेटफॉर्म के रूप में काम करेगा। भारत में एआई से संबंधित लेखों, स्टार्ट-अप, एआई में निवेश फंडों, संसाधनों, कंपनियों और शैक्षिक संस्थानों जैसे संसाधनों को साझा करेगा। इसके द्वारा पोर्टल पर दस्तावेजों, केस स्टडी, अनुसंधान रिपोर्ट आदि को भी साझा किया जाएगा। इसमें एआई से संबंधित शिक्षा और नई नौकरी की भूमिकाओं के बारे में एक संभाग भी होगा।

क्या है 'रिस्पॉन्सिबल एआई फॉर यूथ'?

  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य, देश के युवा छात्रों को एक मंच प्रदान करना और उन्हें नए युग के तकनीकी मांइड-सेट, प्रासंगिक एआई कौशल-सेट और आवश्यक एआई टूल-सेट तक पहुंच प्रदान करने के साथ-साथ सशक्त बनाना है जिससे उन्हें भविष्य के लिए डिजिटल रूप से तैयार किया जा सके। इस कार्यक्रम को राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिवीजन,MeitYद्वारा इंटेल इंडिया के सहयोग से, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग (डीओएसईएंडएल), मानव संसाधन विकास मंत्रालय के समर्थन से शुरू किया गया है। डीओएसईएंडएल राज्य शिक्षा विभागों को पात्रता मानदंडों के अनुसार शिक्षकों को मनोनीत करने में मदद करेगा।
  • 'रिस्पॉन्सिबल एआई फॉर यूथ', युवाओं को एआई के लिए तैयार होने और उनके कौशल-गैप को कम करने में मदद करके युवाओं को सशक्त बनाएगा, जबकि युवाओं को सार्थक रूप से प्रभावी सामाजिक समाधान बनने के लिए सक्षम बनाएगा। यह कार्यक्रम सरकारी स्कूलों के छात्रों को पूरे देश तक पहुंच बनाने और उन्हें समावेशी रूप से कुशल कार्यबल का हिस्सा बनने का अवसर प्रदान करने के लिए बनाया गया है।

ई-पाठ्यक्रम ''अंडरस्टैंडिंग गुड गवर्नेंस''

  • केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी ने ई-पाठ्यक्रम ''अंडरस्टैंडिंग गुड गवर्नेंस'' की शुरुआत पांच दिवसीय संवादात्मक सत्र के इस पाठ्यक्रम को लोक नीति शोध केंद्र और राम भाऊ महाल्गी केंद्र की ओर से संयुक्त रूप से संचालित किया जाएगा।
  • इस पाठ्यक्रम के जरिए छात्रों में गुड गवर्नेंस (सुशासन) को लेकर बेहतर समझ विकसित होगी। सशक्त और सूचना से लैस नागरिक सुशासन की मूलभूत विशेषताओं में से एक है। इस पहल से पिछले छह साल में सरकार केसशक्त और सूचना से लैस नागरिक सुशासन की मूलभूत विशेषताओं में से एक है। इस पहल से पिछले छह साल में सरकार के कामकाज के प्रदर्शन पर स्वस्थ बहस और चर्चा का एक मंच मिलेगा ।

:: अंतर्राष्ट्रीय समाचार ::

विकसित देशों का समूह जी-7 (G-7)

चर्चा में क्यों?

  • अमेरिकी राष्ट्रकपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह संकेत दिया है कि विकसित देशों के समूह जी-7 (G-7) के सदस्य देशों का विस्ताार किया जाएगा। इसमें भारत का भी नाम शामिल होगा। अंतरराष्ट्री य स्तहर पर भारत के लिए यह काफी अहम है। इस मंच के जरिए अब भारत की साझेदारी विकसित देशों के साथ होगी। इससे वैश्विक स्तसर पर भारत का दबदबा भी बढ़ेगा। यह भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक जीत है। हालांकि, कोरोना महामारी के चलते राष्ट्रभपति ट्रंप ने जी-7 की होने वाली बैठक को टाल दिया है। ट्रंप ने शनिवार को कहा है कि समय की मांग है कि इस समूह का विस्तालर किया जाए। उन्हों ने कहा कि जी-7 का स्विरूप काफी पुराना हो चुका है। यह पूरी दुनिया का ठीक से प्रतिनिधित्वक नहीं करता है। इसलिए इसका विस्ताोर जरूरी है। आइए जानते हैं आखिर क्याा है जी-7। अतंरराष्ट्री य स्तवर पर क्याा है उसकी भूमिका और चुनौतियां। भारत के शामिल होने से कैसे एशिया के बदलेंगे समीकरण।

किन देशों को शामिल किये जाने की है योजना?

  • जी-7 सात सदस्यच देशों का संगठन है। फिलहाल कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका इसके सदस्यस देश हैं। शनिवार को राष्ट्र पति ट्रंप ने इसके विस्ताभर के प्रस्ताेव रखा है। इस विस्ताहर में एशिया के दो मुल्कोंा -भारत और दक्षिण कोरिया- शामिल है। इसके अलावा ऑस्ट्रे लिया और रूस को भी इस संगठन का सदस्यर बनाने की बात ट्रंप ने कही है। ट्रंप के इस फैसले से चीन और पाकिस्ताकन को किरकिरी हुई होगी। राष्ट्र पति ट्रंप का यह ऐलान उस वक्त हुआ जब कोरोना महामारी में डब्यूइस एचओ की भूमिका की जांच को लेकर भारत और आस्ट्रेभलिया ने अमेरिका का खुलकर समर्थन किया है।

क्या् है जी-7?

  • जी-7 दुनिया की सात सबसे बड़ी कथित विकसित और उन्नत अर्थव्यवस्था वाले देशों का समूह है। इसमें कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली,जापान, ब्रिटेन और अमरीका शामिल हैं। इसे ग्रुप ऑफ 7 भी कहते हैं। यह समूह लोकतांत्रिक मूल्यों में आस्थार रखता है। स्वतंत्रता और मानवाधिकारों की सुरक्षा, लोकतंत्र और कानून का शासन और समृद्धि एवं सतत विकास, इसके प्रमुख सिद्धांत हैं। प्रारंभ में यह छह सदस्यर देशों का समूह था। इसकी पहली बैठक वर्ष 1975 में हुई थी। 1976 में कनाडा भी इस समूह का सदस्य् बन गया। इसस तरह यह जी-7 बन गया। जी-7 देशों के मंत्री और नौकरशाह आपसी हितों के मामलों पर चर्चा करने के लिए हर वर्ष मिलते हैं। शिखर सम्मेलन में अन्य देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रतिनिधियों को भी भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाता है। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किया जा चुका है।

यूरोपीय यूनियन का अमेरिका WHO के अनुदान पर पुर्नविचार का आग्रह

  • यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उरसुला वोन डेर लेयेन ने शनिवार को ट्रंप से उनके फैसले पर दोबारा विचार करने का आग्रह करते हुए कहा कि ऐसी कार्रवाईयों से बचना चाहिये जिनसे अंतरराष्ट्रीय कोशिशें कमजोर हों। यह समय अंतराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ाने और मिलजुल कर प्रयास करने का है। उन्होंने कहा, डब्ल्यूएचओ को फिलहाल और भविष्य में कोरोना वायरस से निपटने के लिये अंतरराष्ट्रीय समुदाय का नेतृत्व करते रहना चाहिये।
  • ट्रंप ने आरोप लगाया कि डब्ल्यूएचओ महामारी से सही ढंग से निपटने में नाकाम रहा है और उसपर पूरी तरह चीन का नियंत्रण हो गया है।

क्या है यूरोपीय आयोग?

  • यूरोपीय आयोग एक तरह से यूरोपीय संघ की नौकरशाही है जो दिन प्रतिदिन का काम निपटाती है.इसके प्रत्येक सदस्य देश से एक सदस्य होते हैं, इनमें अध्यक्ष भी शामिल होते हैं।वर्तमान में ‘यूरोपीय आयोग’ के अध्यक्ष उरसुला वोन डेर लेयेन हैं। यह ब्रुसेल्स और लक्जमबर्ग में स्थित है और इसके अपने कर्मचारी हैं।
  • इसके आयुक्तों से उम्मीद की जाती है कि वे अपने राष्ट्र के प्रति लगाव नहीं रखते हुए स्वतंत्र रूप से यूरोपीय संघ के हितों के लिए काम करेंगे।
  • आयोग ही वैसी जगह है जहां यूरोपीय संघ क़ानून को प्रस्तावित कर सकता है, हालांकि उसे पारित कराने में इनकी कोई भूमिका नहीं होती है. इसके दूसरे अन्य काम निम्न हैं-
  • 1. यूरोपीय संघ की नीतियों और बजट की निगरानी एवं उसे लागू कराना.
  • 2. यूरोपीय संघ के क़ानून सभी सदस्य देशों में लागू हों- यह सुनिश्चित करना.
  • 3. अंतरराष्ट्रीय मंचों पर यूरोपीय संघ का प्रतिनिधित्व करना- ख़ासकर अंतरराष्ट्रीय व्यापार और पर्यावरण के मुद्दों पर.

कोविड-19 महामारी में सुरक्षित यात्रा के ‘ग्रीन लेन’ की स्थापना

कोविड-19 महामारी के इस दौर में यात्रा के लिए “ग्रीन लेन” बनाने के वास्ते सिंगापुर ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण कोरिया समेत कई देशों से बातचीत कर रहा है। चीन सिंगापुर के साथ ग्रीन लेन स्थापित करने वाला पहला देश बन गया है।

क्या है ‘ग्रीन लेन’?

  • कोरोना वायरस से सुरक्षा के उपाय अपनाते हुए इस प्रकार की व्यवस्था करने से संपर्क पुनर्स्थापित होगा और देशों के बीच कम अवधि की व्यावसायिक और आधिकारिक यात्रा करना सुविधाजनक हो जाएगा।
  • “पारस्परिक ग्रीन लेन समझौतों का अर्थ है कि एक दूसरे के जांच के नियमों और मानकों के प्रति आश्वस्त होना।”
  • सिंगापुर के द्वारा जिन देशों से बात की जा रही है उनमें ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरिया, न्यूजीलैंड और मलेशिया शामिल हैं।

नेपाल की संसद में विवादित नए नक्शे को लेकर संशोधन विधेयक पेश

  • भारत के साथ सीमा विवाद के बीच नेपाल सरकार ने रविवार को विवादित नए नक्शे को लेकर संसद में एक संविधान संशोधन विधेयक पेश किया। नए नक्शे में अपने इलाकों को दिखाए जाने पर भारत द्वारा कड़ी आपत्ति जताने के बावजूद नेपाल ऐसा करने से नहीं माना। नेपाल सरकार की ओर से कानून, न्याय और संसदीय मामलों के मंत्री शिवमया तुंबांगफे ने इस विधेयक को पेश किया। इससे एक दिन पहले मुख्य विपक्षी नेपाली कांग्रेस ने भी कानून का समर्थन किया था। यह संविधान का दूसरा संशोधन होगा।

पृष्ठभूमि

  • बीते दिनों नेपाल सरकार द्वार अपने देश का नया नक्शात जारी किया गया था। इसमें लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा के कुल 395 वर्ग किलोमीटर के भारतीय इलाके को उसने अपना बताया था। नेपाल सरकार द्वारा ऐलान किया गया कि यह नक्शार देश के सभी स्कू लों और सरकारी कार्यालयों में इस्तेनमाल होगा।
  • भारतीय विदेश मंत्रालय ने नए नक्शे में भारतीय इलाकों को दिखाए जाने पर कड़ी आपत्ति जताई थी। मंत्रालय ने नेपाल को भारत की संप्रभुता का सम्मान करने की नसीहत दी थी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा था कि नेपाल इस मुद्दे पर भारत की स्थिति पूरी तरह वाकिफ है। नेपाल सरकार को बनावटी कार्टोग्राफिक प्रकाशित करने से बचना चाहिए और नेपाल सरकार अपने फैसले पर फिर से विचार करना चाहिए।

:: अर्थव्यवस्था ::

बैंक बोर्ड ब्यूरो (बीबीबी)

चर्चा में क्यों?

  • बैंक बोर्ड ब्यूरो (बीबीबी) ने शनिवार को तीन सरकारी बैंकों ‘भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (सीबीआई) और इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) के प्रबंध निदेशक (एमडी) पद के लिये क्रमश: अश्विनी भाटिया, एमवी राव और पी पी सेनगुप्ता के नामों की सिफारिश की।भाटिया और सेनगुप्ता अभी एसबीआई में उप प्रबंध निदेशक (डीएमडी) हैं, जबकि राव केनरा बैंक में कार्यकारी निदेशक हैं।भाटिया को पी के गुप्ता के स्थान पर नियुक्त किया जायेगा, जो 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो गये। राव सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के एमडी पल्लव महापात्रा की जगह लेंगे, जो अगले साल फरवरी में सेवानिवृत्त होंगे। सेनगुप्ता इंडियन ओवरसीज बैंक के एमडी एवं सीईओ कर्णम सेकर की जगह लेंगे, जो 30 जून को सेवानिवृत्त होंगे।इनकी नियुक्ति पर फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति करेगी।

क्या है बैंक बोर्ड ब्यूरो (बीबीबी)?

  • पीजे नायक समिति की सिफारिशों पर सरकार ने बोर्ड ब्यूरो (बीबीबी) का गठन2016में किया था। ब्यूरो सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में निदेशकों की नियुक्ति, धन जुटाने के तरीकों और विलय तथा अधिग्रहण के संबंध में सलाह देगा। इसके अलावा ब्यूरो लगातार बैंकों के निदेशकों के साथ संपर्क में रहकर बैंकों के लिए रणनीति तैयार करने में भी मदद करेगा। साथ ही गैर कार्यकारी अध्यक्ष और गैर सरकारी निदेशकों की नियुक्ति भी यही बोर्ड करेगा। सरकार ने आम बजट 2015-16 में बैंक्स बोर्ड ब्यूरो बनाने की घोषणा की थी।

इनसाइडर ट्रेडिंग (भेदिया कारोबार)

चर्चा में क्यों?

  • भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने बैंक ऑफ राजस्थान के पूर्व प्रवर्तकों समेत पांच इकाइयों पर कथित भेदिया कारोबार मामले में तीन करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। बैंक ऑफ राजस्थान अब अस्तित्व में नहीं है। इसका 2010 में आईसीआईसीआई बैंक में विलय हो चुका है। सेबी ने बैंक के रोहित प्रेम कुमार गुप्ता, नवीन कुमार तायल, ज्योतिका संजय तायल, आणविक टेक्सटाइल एंड रीयलप्रो प्राइवेट लिमिटेड और कुलविंदर कुमार नैय्यर पर जुर्माना लगाने का आदेश दिया। इन सभी को मिलाकर यह तीन करोड़ रुपये की राशि जमा करनी है। विलय से पहले बैंक ऑफ राजस्थान में तायल प्रमुख शेयरधारक थे।

क्या होता है इनसाइडर ट्रेडिंग?

  • सेबी नियमन निवेशकों के हितों की रक्षा के लिये भेदिया कारोबार पर रोक लगाता है। इसमें भेदिया कारोबार वैसे मामले को कहा जाता हैं जहां कीमत से जुड़ी अप्रत्याशित संवेदनशील जानकारी अपने पास रखते हुए शेयरों में कारोबार किया जाता है।आसान शब्दों में जब कंपनी के मैनेजमेंट से जुड़ा कोई आदमी उसकी अंदरूनी जानकारी होने के आधार पर शेयर खरीद या बेचकर गलत ढंग से मुनाफा कमाता है तो इसे इनसाइडर ट्रेडिंग या भेदिया कारोबार कहा जाता है।

क्या है भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी)?

  • भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) की स्थापना भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड अधिनियम, 1992 के प्रावधानों के अनुसार 12 अप्रैल, 1992 को हुई थी । सेबी का मुख्यालय मुंबई में बांद्रा कुर्ला परिसर के व्यावसायिक जिले में हैं और क्रमश: नई दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई और अहमदाबाद में उत्तरी, पूर्वी, दक्षिणी व पश्चिमी क्षेत्रीय कार्यालय हैं।
  • भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) की उद्देशिका में सेबी के मूल कार्य प्रतिभूतियों (सिक्यूरिटीज़) में निवेश करने वाले निवेशकों के हितों का संरक्षण करना, प्रतिभूति बाजार (सिक्यूरिटीज़ मार्केट) के विकास का उन्नयन करना तथा उसे विनियमित करना और उससे संबंधित या उसके आनुषंगिक विषयों का प्रावधान करना है।

:: विज्ञान और प्रौद्योगिकी ::

फाइल शेयरिंग वेबसाइट ‘वीट्रांसफर’

सरकार ने इंटरनेट सेवा प्रदाताओं (आईएसपी) को सुरक्षा कारणों से कंप्यूटर फाइल शेयरिंग वेबसाइट वीट्रांसफर पर रोक लगाने के लिये कहा है। यह आदेश दिल्ली पुलिस के अनुरोध पर दिया गया है। दूरसंचार विभाग ने 18 मई को जारी आदेश में इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को नीदरलैंड की वेबसाइट वीट्रांसफर पर दो डाउनलोड लिंक को और पूरी वेबसाइट ‘वीट्रांस्फर डॉट कामॅ’ को ब्लॉक करने को कहा है।

पृष्ठभूमि

  • दिल्ली पुलिस ने सूचना प्रसारण मंत्रालय से दो लिंक को और पूरी वेबसाइट को तत्काल ब्लॉक करने का अनुरोध किया था। इसी के आधार पर यह आदेश दिया गया है।’’ मंत्रालय ने दूरसंचार विभाग को कहा है कि वह इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को बेवसाइट ब्लॉक करने का निर्देश दे। विभिन्न इंटरनेट सेवाप्रदाताओं को ई-मेल के जरिये भेजे आदेश में दूरसंचार विभाग ने कहा है कि इसके अनुपालन की जानकारी तत्काल दी जाये, अन्यथा लाइसेंस की शर्तों के तहत कार्रवाई की जायेगी।

वर्चुअल रियलिटी मॉडल से मिस्र के बच्चे के दिल की सर्जरी

आईआईटी मद्रास की ओर से विकसित की गई एक वर्चुअल रियलटी मॉडल की मदद से मिस्र के 11 वर्षीय बालक की सर्जरी आसानी से की गई। लड़का रेस्ट्रिक्टिव कार्डियोमायोपैथी और गंभीर पल्मोरी हाइपरटेंशन (फेफड़ों में भारी दबाव) जैसे जानलेवा ह्दयरोग से पीड़ित था। चेन्नई के एमजीएम अस्पताल में इस तकनीक की मदद से बच्चे को हार्ट पंप लगाया था।

पृष्ठभूमि

  • अमेरिका और यूरोप के कई बड़े अस्पतालों ने बच्चे का इलाज करने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद इस बच्चे को भारत लाया गया। एमजीएम हेल्थकेयर में इंस्टीट्यूट ऑफ हार्ट ऐंड लंग ट्रांसप्लांट के निदेशक डॉ. के.के. बालकृष्णन ने बताया कि भारत में यह इस तरह की पहली सफल प्रतिरोपण सर्जरी है।

इलाज के लिए अपनाई गयी प्रक्रिया

  • डॉ बालकृष्णन ने कहा कि चेन्नई पहुंचने के बाद बच्चे के दिल की हालत और खराब हो गई। डॉक्टर के पास एक मात्र विकल्प यह था कि क्या किसी तरह हृदय के बाएं निलय से बाकी के शरीर में रक्त प्रवाह करने में मदद के लिए बैटरी-चालित मेकेनिकल पंप लगाया जा सकता है।
  • इसके बाद डॉ बालकृष्णन ने आईआईटी मद्रास के इंजीनियरिंग डिजाइन विभाग से संपर्क किया और पता लगाया कि क्या बच्चे के सीटी स्कैन से कोई वर्चुअल रियलिटी मॉडल और पंप बनाया जा सकता है।
  • आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर कृष्ण कुमार ने बताया कि आईआईटी मद्रास में एक वर्चुअल मॉडल बनाया गया, जिसे कम्प्यूटर गेम की तरह 3डी ग्लास वाला हैड लगाकर पंप को आभासी तरीके से कई स्थितियों में लगाकर देखा गया ताकि प्रक्रिया संभव हो सके। जब विश्वास हो गया तो प्रतिरोपण किया गया, जो पूरी तरह से सफल हुआ।

निजी कंपनी स्पेसएक्स ने नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को कक्षा में भेजा

  • एलन मस्क की स्पेसएक्स कंपनी द्वारा निर्मित रॉकेट यान ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र (आईएसएस) की तरफ बढ़ रहे नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को फ्लोरिडा से शनिवार को सफलतापूर्वक कक्षा में भेजा। यह व्यावसायिक अंतरिक्ष यात्रा के इतिहास में नये अध्याय की शुरुआत है।
  • फ्लोरिडा के केनेडी अंतरिक्ष केंद्र से हुआ यह प्रक्षेपण इसलिए भी महत्त्वपूर्ण है क्योंकि यह करीब एक दशक में पहली बार है जब अमेरिकी जमीं से मानवों को कक्षा में भेजा गया है।

स्पेसएक्सके अभियान से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

  • नासा के अंतरिक्ष यात्री बॉब बेह्नकेन (49) और डोग हर्ले (53) को लेकर स्पेसएक्स क्रू ड्रैगन अंतरिक्षयान ने नासा के केनेडी अंतरिक्ष केंद्र के प्रक्षेपण परिसर से कंपनी के फाल्कन 9 रॉकेट के जरिए तीन बजकर 22 मिनट पर उड़ान भरी।
  • इस प्रक्षेपण के साथ ही स्पेसएक्स पहली निजी कंपनी बन गई है जिसने मनुष्य को कक्षा में भेजा हो। इससे पहले केवल तीन सरकारों - अमेरिका, रूस और चीन को यह उपलब्धि हासिल है।
  • फिर से इस्तेमाल हो सकने वाले, गमड्रॉप (कैंडी) आकार के इस यान का नाम क्रू ड्रैगन है जो अब अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र के 19 घंटे के सफर पर ले जाएगा। यह अंतरिक्षयान रविवार को सुबह 10 बजकर 29 मिनट पर आईएसएस पर होगा।
  • कोरोना वायरस के चलते पिछले तीन महीनों में एक लाख से अधिक देशवासियों को खो चुके अमेरिका के लिए यह सफल प्रक्षेपण खुशी का मौका लेकर आया है। इससे पहले पिछले हफ्ते खराब मौसम के चलते यह प्रक्षेपण टल गया था।

:: विविध ::

विश्व तंबाकू निषेध दिवस:31 मई

  • प्रतिवर्ष 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है जिसका उद्देश्य वैश्विक स्तर पर तंबाकू उपभोग को कम करने वाली प्रभावी नीतियों का वकालत करना और तंबाकू उपभोग से जुड़े स्वास्थ्य और अन्य ज़ोखिमों को उजागर करना है। तंबाकू के प्रकोप और उसके कारण होने से मृत्यु को रोकने एवं इस विषय पर वैश्विक समुदाय का ध्यान आकर्षण करने के लिए विश्व तंबाकू निषेध दिवस को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा वर्ष 1987 से मनाया जा रहा है।
  • कई दशकों से तंबाकू के निर्माण करने वाली कंपनियों के द्वारा युवाओं को विभिन्न आक्रामक रणनीतियों के द्वारा इस गंभीर लत की ओर धीमे धीमे धकेला जा रहा है। तंबाकू के उत्पादन करने वाली बड़ी-बड़ी कंपनियां बड़े ही सुनियोजित तरीके से जिसमें विज्ञापन, नए उत्पादों के द्वारा नई पीढ़ी को आकर्षित करना, अप्रत्यक्ष रूप से कई कैंपेन चलाना, इत्यादि जरिए बच्चों से लेकर नौजवान लोगों को तंबाकू उपभोग की गंभीर प्रवृत्ति की ओर धकेला जा रहा है। डब्ल्यूएचओ के द्वारा इस वर्ष की थी ऐसी कंपनियों को बेनकाब करने के लिए समर्पित किया गया है। इसवर्ष #TobaccoExposedअभियान चलाते हुए विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2020 का विषय डब्ल्यूएचओ के द्वारा ‘Protecting youth from industry manipulation and preventing them from tobacco and nicotine use’ रखा गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा इस विषय को उजागर करने का लक्ष्य तंबाकू उद्योग के द्वारा तंबाकू उपभोग को बढ़ावा दिए जाने वाले प्रयासों को न्यून करना है।

:: प्रिलिम्स बूस्टर ::

  • प्रधानमंत्री द्वारा आवाहन किए गए वीडियो ब्लॉगिंग कॉन्टेस्ट ‘माय लाइफ- माय योगा (जीवन योगा) का संचालन किन संस्थानों के द्वारा किया जाएगा? (आयुष और इंडियन काउंसिल फॉर कल्चरल रिलेशंस)
  • हाल ही में लांच किए गए “Responsible AI for Youth” कार्यक्रम किन संस्थानों की संयुक्त पहल है? (MeitY, इंटेल इंडिया और डिपार्टमेंट ऑफ स्कूल एजुकेशन एंड लिटरेसी)
  • अल्पसंख्यक मंत्रालय के पिछले वर्षों की उपलब्धियों से चर्चा में रहे ‘ प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम’ का उद्देश्य क्या है? (अल्पसंख्यक क्षेत्रों में सामाजिक-आर्थिक- शैक्षणिक- रोजगारपरक अवसंरचना का निर्माण)
  • ग्रासरूट के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर की ऑनलाइन कोचिंग उपलब्ध करवाने हेतु आरंभ की गई ‘खेलो इंडिया ई-पाठशाला’ किसके संस्था द्वारा लांच की गई है? (भारतीय खेल प्राधिकरण- साई)
  • भारत और दक्षिण कोरिया को शामिल किए जाने से चर्चा में रहे जी-7 में कौन से देश शामिल हैं? (कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली,जापान, ब्रिटेन और अमरीका)
  • अंतरिक्ष यात्रियों को इस देश में भेजने वाली प्रथम निजी कंपनी कौन है एवं इस कंपनी के संस्थापक कौन है? (स्पेसएक्स, एलन मस्क)
  • हाल ही में स्पेसएक्स के द्वारा किन अंतरिक्ष यात्रियों को सफलतापूर्वक अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र में भेजा गया? (बॉब बेह्नकेन (49) और डोग हर्ले)
  • बैंकों में प्रबंध निदेशक के नियुक्ति की सिफारिशों से चर्चा में रहे बैंक बोर्ड ब्यूरो (बीबीबी) का गठन किस समिति की सिफारिशों से एवं कब किया गया था? (पीजे नायक समिति, 2016)
  • बैंक ऑफ राजस्थान के पूर्व प्रवर्तकों पर जुर्माना लगाने से चर्चा में रहे ‘इंसाइडर ट्रेडिंग’ का विनियमन किस संस्था के द्वारा किया जाता है? (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड- SEBI)
  • अमेरिकन द्वारा WHO के संदर्भ में पुनर्विचार के आग्रह से चर्चा में रही ‘यूरोपीय आयोग’ के अध्यक्ष कौन है एवं इसका मुख्यालय कहां स्थित है? (उरसुला वोन डेर लेयेन, ब्रुसेल्स और लक्जमबर्ग)
  • हाल ही में सरकार के द्वारा रोक लगाने से चर्चा में रहे वेबसाइट ‘वीट्रांसफर’ किस प्रकार की सेवा प्रदान करती है? (फाइल शेयरिंग वेबसाइट)
  • कोविड-19 में सुरक्षित व्यवसायिक एवं निजी यात्रा हेतु “ग्रीन लेन” किस देश की पहल है एवं इससे जुड़ने वाला प्रथम देश कौन है? (सिंगापुर, चीन)
  • प्रतिवर्ष किस तिथि को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है एवं इस वर्ष WHO के द्वारा तंबाकू प्रसार को रोकने के लिए कौन सा अभियान चलाया जा रहा है? (31मई, #TobaccoExposed)

स्रोत साभार: Dainik Jagran (Rashtriya Sanskaran), Dainik Bhaskar (Rashtriya Sanskaran), Rashtriya Sahara (Rashtriya Sanskaran) Hindustan Dainik (Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times (Hindi & English), PTI, PIB

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिये यहां क्लिक करें