(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (02 जनवरी 2020)

दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर


(दैनिक समसामयिकी और प्रिलिम्स बूस्टर) यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में समाचार पत्रों का संकलन (02 जनवरी 2020)


:: राष्ट्रीय समाचार ::

गगनयान मिशन और चंद्रयान-3

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो के प्रमुख डॉक्टर के. सिवन ने घोषणा की है कि चंद्रमा के लिए भारत के पहले मानव मिशन गगनयान के लिए वायुसेना के चार कर्मियों की पहचान की गयी है। कि ये चारों जनवरी के तीसरे सप्ताह से रूस में अंतरिक्ष यात्रियों का प्रशिक्षण लेंगे।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के अनुरूप गगनयान 2022 में भेजने की योजना है। परीक्षण के तौर पर इस वर्ष मानव रहित मिशन भेजा जायेगा। सरकार ने चंद्रयान-3 मिशन की मंज़ूरी दे दी है। इस मिशन में ऑर्बिटर नहीं भेजा जायेगा। चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडर और रोवर की सॉफ्ट लैंडिंग कराई जायेगी। इस मिशन के तहत वही प्रयोग किये जाएंगे, जिनकी चंद्रयान-2 में योजना बनाई गयी थी। तमिलनाडु के तूतीकोरिन में दूसरा उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र बनाया जायेगा। इसके लिए दो हज़ार तीन सौ एकड़ भूमि ली जायेगी। आरम्भ में यहां से छोटे उपग्रहों को छोड़ा जायेगा।

मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफायर (MANI)

  • दृष्टिबाधित लोगों के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक स्पेशल ऐप लॉन्च की है। यह ऐप दृष्टिबाधित लोगों को करेंसी नोटों की पहचान करने में बड़े काम आएगी। मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफायर (MANI) नाम की इस मोबाइल एप्लीकेशन की मदद से दृष्टिबाधित व्यक्ति करेंसी नोट की पहचान आसानी से कर पाएंगे। रिजर्व बैंक की यह ऐप एंड्रॉयड प्ले स्टोर और iOS ऐप स्टोर से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है।

पृष्टभूमि

  • गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद पेश किए गए महात्मा गांधी सीरीज के नए नोटों की डिजाइन में अहम परिवर्तन किए गए हैं। पिछले कुछ वर्षों के दौरान 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2000 रुपये के नए नोट जारी किए गए हैं। इनमें कईं ऐसे फीचर्स और कलर्स का उपयोग किया गया है जो दृष्टिबाधीत लोगों के लिए पहचानना संभव नहीं हो पाता है। इनमें इंटेग्लियो इंक, नोट पर अंकों का साइज, नोट का साइज व अन्य शामिल हैं। कई बार यह सुनने में आया है कि दृष्टिबाधित लोगों को इन नए नोटों की पहचान में दिक्कत आ रही है। इससे उनका दैनिक कार्य और व्यापार प्रभावित हो रहा था।

ऐसे करेगी काम

  • यह ऐप महात्मा गांधी सीरीज के सभी नए और पुराने करेंसी नोटों की किसी भी लाइट कंडिशन में पहचान करने में सक्षम होगा। कैमरे की मदद से यह ऐप नोट की तस्वीर खींचेगा और उसके मूल्य की जानकारी ऑडियो के जरिये देगा। यह जानकारी हिंदी व अंग्रेजी में ऑडियो के माध्यम से दी जाएगी। इस ऐप की एक और खास बात यह है कि इसे इंस्टाल करने के बाद इंटरनेट की जरूरत नहीं होगी।
  • इसका मतलब यह है कि अगर यूजर के फोन में इंटरनेट काम नहीं कर रहा तब भी वो नोट की पहचान कर सकेगा। आरबीआई के इस नए ऐप की मदद से नई सीरीज के इन करेंसी नोटों की पहचान आसानी से की जा सकेगी। मनी एप में भाषा बदलने का विकल्प मौजूद है और इसे वॉइस कमांड के जरिये भी चलाया जा सकेगा।

दीनदयाल अंत्‍योदय योजना - राष्‍ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (डीएवाई-एनयूएलएम)

  • 2018-19 में डीएवाई-एनयूएलएम के कार्यान्‍वयन में अच्‍छा प्रदर्शन करने वाले राज्‍यों को सम्‍मानित किया गया। इन राज्‍यों में आंध्र प्रदेश को प्रथम, केरल को दूसरा और गुजरात को तीसरा स्‍थान प्राप्‍त हुआ है। हिमालयाई और पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में हिमाचल प्रदेश को प्रथम स्‍थान और अरूणाचल प्रदेश को दूसरा स्‍थान प्राप्‍त हुआ है।
  • शहरी स्‍ट्रीट वेंडरों के हितों की सुरक्षा के लिए स्ट्रीट वेंडर्स अधिनियम और इसके प्रभावी कार्यान्‍वयन के बारे में एक विस्‍तृत सत्र का भी आयोजन किया गया। शहरी समृद्धि उत्‍सव सब से मजबूर और गरीब शहरी लोगों में भी सबसे गरीब देशवासियों के जीवन में एक महत्‍वपूर्ण प्रभाव लाने वाला मंच है।

पृष्टभूमि

  • दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (डीएवाई-एनयूएलएम) आवास और शहरी कार्य मंत्रालय की प्रमुख योजनाओं में से एक है। यह मजबूत समुदाय संस्‍थानों, कौशल प्रशिक्षण, स्‍वरोजगार के लिए सस्‍ते ऋण तक पहुंच, स्ट्रीट वेंडरों को मदद तथा शहरी बेघर लोगों के लिए स्‍थाई आश्रय के प्रावधानों के माध्‍यम से शहरी गरीबी उन्‍मूलन के लिए काम करता है।

:: अंतर्राष्ट्रीय समाचार ::

पलाऊ ने सन क्रीम पर लगाई पाबंदी

  • प्रशांत महासागरीय देश पलाऊ (Pacific nation Palau) सन क्रीम के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने वाला पहला देश बन गया है। पर्यटकों के बीच मशहूर पलाऊ में नए साल से सन क्रीम पर यह प्रतिबंध उसमें इस्तेमाल होने वाले खतरनाक रसायन के चलते लगाया गया है। 20 हजार की आबादी वाले देश ने ऑक्सीबेंजोन और ऑक्टीनोजेट रसायनों से बनी क्रीम पर पाबंदी की घोषणा पहले ही कर दी थी।

पृष्टभूमि

  • पलाऊ अपनी समुद्री सुंदरता के लिए जाना जाता है। कोरल रीफ से घिरे इसके द्वीप विभिन्न प्रकार के जीवों के घर हैं। इंटरनेशनल कोरल रीफ फाउंडेशन के मुताबिक, सन क्रीम के तौर पर इस्तेमाल होने वाले रसायन समुद्री जीवों के लिए जहर के समान हैं। पाबंदी लागू करते हुए पलाऊ के राष्ट्रपति टॉमी रेमेंगेसाऊ ने कहा कि हमें अपने वातावरण को बचाना होगा। वन्यजीवों पर खतरनाक असर को देखते हुए अमेरिका के वर्जिन आइलैंड्स और हवाई प्रांत में भी सन क्रीम पर पाबंदी लगाई जा चुकी है।
  • बता दें कि महासागरों के परिस्‍थितिकी तंत्र को बचाने के लिए पिछले साल नवंबर में भारत ने भी बड़ा कदम उठाया था। भारत के नौवहन महानिदेशालय (Directorate General of Shipping) ने साल 2020 से भारतीय जहाजों में सिंगल यूज प्‍लास्टिक (single use plastics) और उसके उत्‍पादों पर बैन लगा दिया था। फैसले के तहत भारतीय जहाज सिंगल यूज प्लास्टिक के उत्‍पाद जैसे आइसक्रीम कंटेनर, हॉट डिश कप, माइक्रोवेव डिशेज और चिप्स के थैले आदि का इस्‍तेमाल नहीं करेंगे।
  • भारत के नौवहन महानिदेशालय की ओर से कहा गया था कि यह प्रतिबंध विदेशी जहाजों के लिए भी लागू होगा। विदेशी जहाजों को भारतीय जलक्षेत्र में प्रवेश करने से पहले यह बताना होगा कि उनके पास सिंगल यूज प्‍लास्टिक तो नहीं है। प्लास्टिक प्रदूषण को लेकर आई इंटरनेशनल मेरीटाइम ऑर्गनाइजेशन (आईएमओ) की रिपोर्ट में कहा गया है कि सागरों और महासागरों में प्‍लास्टिक प्रदूषण यदि इसी तेजी से ढ़ता रहा तो सन 2050 तक महासागरों में प्लास्टिक की मात्रा मछलियों से ज्‍यादा होगी।

:: भारतीय अर्थव्यवस्था ::

जीएसटी कलेक्शन तीन महीने बाद 1 लाख करोड़ रुपए के पार

  • अर्थव्यवस्था में चल रही मंदी के बीच सरकार के लिए राहत की खबर आई है। नवंबर महीने में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) कलेक्शन एक लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गया है।
  • वित्त मंत्रालय के अनुसार नवंबर महीने में सरकार को 1,03,492 करोड़ रुपए का जीएसटी मिला है। यह पिछले अक्टूबर महीने के मुकाबले 8 हजार करोड़ रुपए ज्यादा है। अक्टूबर में जीएसटी कलेक्शन 95,380 करोड़ रुपए रहा था। वित्त मंत्रालय के अनुसार नवंबर में 19,592 करोड़ रुपए सीजीएसटी, 27,144 करोड़ रुपए एसजीएसटी, 49,028 करोड़ रुपए आईजीएसटी (आयात से प्राप्त 20,948 करोड़ रुपए भी शामिल) प्राप्त हुआ है। इस अवधि में सरकार को सेस से 7727 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं जिसमें 869 करोड़ रुपए आयात से मिले हैं।
  • कई तरह की कटौतियों के बावजूद लगातार तीन महीने से जीएसटी कलेक्शन एक लाख करोड़ रुपए से नीचे ही चल रहा था। अगस्त में यह 98,202 करोड़ रुपए, अक्टूबर में 95,380 करोड़ रुपए और सितंबर में 91,916 करोड़ रुपए रहा था।

नवम्‍बर, 2019 में आठ कोर उद्योगों की वृद्धि दर

  • आठ कोर उद्योगों का संयुक्‍त सूचकांक नवम्‍बर, 2019 में 126.3 अंक रहा, जो नवम्‍बर 2018 में दर्ज किए गए सूचकांक के मुकाबले 1.5 प्रतिशत कम है। दूसरे शब्‍दों में, नवम्‍बर 2019 में आठ कोर उद्योगों की वृद्धि दर 1.5 प्रतिशत ऋणात्‍मक आंकी गई है। वहीं, वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान आठ कोर उद्योगों की संचयी उत्‍पादन वृद्धि दर 0.0 प्रतिशत रही।
  • औद्योगिक उत्‍पादन सूचकांक (आईआईपी) में शामिल वस्तुओं के भारांक (वेटेज) का 40.27 प्रतिशत हिस्सा आठ कोर उद्योगों में शामिल होता है। आठ कोर उद्योगों के सूचकांक (आधार वर्ष: 2011-12) का सार अनुलग्‍नक में दिया गया है।

कोयला

  • नवम्‍बर, 2019 में कोयला उत्‍पादन (भारांक: 10.33%) नवम्‍बर, 2018 के मुकाबले 2.5 प्रतिशत घट गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान कोयला उत्‍पादन की वृद्धि दर पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 5.3 प्रतिशत कम रही।

कच्‍चा तेल

  • नवम्‍बर, 2019 के दौरान कच्‍चे तेल का उत्‍पादन (भारांक: 8.98%) नवम्‍बर, 2018 की तुलना में 6.0 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान कच्‍चे तेल का उत्‍पादन बीते वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 5.9 प्रतिशत कम रहा।

प्राकृतिक गैस

  • नवम्‍बर, 2019 में प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन (भारांक: 6.88%) नवम्‍बर, 2018 के मुकाबले 6.4 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान प्राकृतिक गैस का उत्‍पादन पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 3.1 प्रतिशत घट गया।

रिफाइनरी उत्‍पाद

  • पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्‍पादों का उत्‍पादन (भारांक: 28.04%) नवम्‍बर, 2019 में 3.1 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्‍पादों का उत्‍पादन पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 1.1 प्रतिशत कम रहा।

उर्वरक

  • नवम्‍बर, 2019 के दौरान उर्वरक उत्‍पादन (भारांक: 2.63%) 13.6 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान उर्वरक उत्‍पादन बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 4.0 प्रतिशत अधिक रहा।

इस्‍पात

  • नवम्‍बर, 2019 में इस्‍पात उत्‍पादन (भारांक: 17.92%) 3.7 प्रतिशत घट गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान इस्‍पात उत्‍पादन पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 5.2 प्रतिशत ज्‍यादा रहा।

सीमेंट

  • नवम्‍बर, 2019 के दौरान सीमेंट उत्‍पादन (भारांक: 5.37%) नवम्‍बर, 2018 के मुकाबले 4.1 प्रतिशत अधिक रहा। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान सीमेंट उत्‍पादन बीते वित्‍त वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 0.02 प्रतिशत कम रहा।

बिजली

  • नवम्‍बर, 2019 के दौरान बिजली उत्‍पादन (भारांक: 19.85%) नवम्‍बर, 2018 के मुकाबले 5.7 प्रतिशत गिर गया। वर्ष 2019-20 की अप्रैल-नवम्‍बर अवधि के दौरान बिजली उत्‍पादन पिछले वित्‍त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 0.7 प्रतिशत अधिक रहा।

:: विज्ञान और प्रौद्योगिकी ::

दुनिया की पहली स्मार्ट हाईस्पीड ट्रेन

  • चीन ने 56,496 करोड़ रुपए की लागत से दुनिया की पहली स्मार्ट और हाईस्पीड ट्रेन शुरू की है, जो ड्राइवरलेस है। 350 किमी की रफ्तार से चलने वाली इस ट्रेन में 5जी सिग्नल, वायरलैस चार्जिंग और स्मार्ट लाइटिंग समेत हर सुविधाएं आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से जुड़ी हैं। सोमवार को बीजिंग से झांगजियाकौ के बीच 174 किमी का सफर इस ट्रेन ने 10 स्टॉप के साथ 47 मिनट में पूरा किया।
  • इस ट्रेन की सबसे खास बात यह है कि इसके संचालन में इस्तेमाल की जाने हर तकनीक, यहां तक कि जीपीएस सिस्टम भी चीन का उपयोग में लाया गया। इस ट्रेन को खास तौर पर 2022 के शीतकालीन ओलिंपिक के लिए शुरू किया गया है क्योंकि इन दोनों शहरों में इस खेल का आयोजन किया जाना है।
  • चीन का दावा है कि यह दुनिया की पहली ऐसी 'स्मार्ट हाई-स्पीड ट्रेन है जो पूरी तरह स्वचालित है। इसे चलाने के लिए किसी ऑपरेटर को नहीं रखा गया है। केवल एक व्यक्ति ड्राइवर बोर्ड पर होगा जो सिर्फ आपात स्थिति पर नजर रखेगा। इस ट्रेन के मेंटेन और रिपेयरिंग का काम भी रोबोट करेंगे।
  • इस ट्रेन के लिए इस रूट के ट्रैक और मशीनों को पूरी तरह बदल दिया गया है। ट्रेन के अंदर और इसके सभी स्टॉपेज पर रोबोट अपनी सेवाएं दे रहे हैं। चीन का रेलवे नेटवर्क 139,000 किमी का है। यह दुनिया का सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है।

डॉर्नियर-228 विमान वायुसेना में शामिल

  • वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर. के. एस. भदौरिया ने उड़ान सूचना प्रणाली से लैस डॉर्नियर विमान को वायुसेना के 41 वे स्‍क्‍वाड्रन -ऑटर्स में विधिवत शामिल किया।
  • डॉर्नियर विमान-228 के इस बदले हुए संस्‍करण को वायुसैनिक अड्डों में लागू की गई आधुनिक एयरफील्‍ड अवसंरचना के बाद लाई गई स्‍वदेश निर्मित नैविगेशन सहायता प्रणाली के साथ समन्‍वय बनाने के लिए शामिल किया जा रहा है। नए किस्‍म के ऐसे पहले डॉर्नियर विमान की आपूर्ति नवंबर में की गई थी जबकि दूसरे ऐसे विमान की 2020 की शुरुआत में मिलने की संभावना है।

:: विविध ::

जनरल बिपिन रावत

  • जनरल बिपिन रावत ने आज यहां देश के पहले चीफ आफॅ डिफेंस स्‍टाफ (सीडीएस) के रूप में पदभार संभाला। चीफ ऑफ स्‍टाफ के तौर पर जनरल रावत तीनों सेनाओं के बारे में रक्षा मंत्री के मुख्‍य सैन्‍य सलाहकार होंगे। उनकी सेना को आंबटित बजट का युक्तिसंगत इस्‍तेमाल सुनिश्चित करने तथा संयुक्‍त नियोजन और एकीकरण के माध्‍यम से तीनों सेनाओं के लिए खरीद,प्रशिक्षण, और संचालन में बेहतर समन्‍वय बनाने में बड़ी भूमिका होगी। उन्‍हें तीनों सेनाओं के लिए रक्षा खरीद येाजना तैयार करते समय स्‍वेदशी हथियारों तथा रक्षा उपकरणों की खरीद को बढ़ावा देने के हर संभव प्रयास भी करने होंगे।

:: प्रिलिम्स बूस्टर ::

  • किस वर्ष गगनयान मिशन कोअंतरिक्ष में भेजा जाएगा? (2022)
  • चंद्रयान-3 के तहत भेजे जाने वाले लैंडर और रोवर की सॉफ्ट लैंडिंग चंद्रमा के किस स्थान पर कराई जाएगी? (चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर)
  • भारत के दूसरे उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र की स्थापना कहां की जाएगी? (तूतीकोरिन- तमिलनाडु)
  • दृष्टिबाधित लोगों को करेंसी नोटों की पहचान करने में मदद करने हेतु रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में कौन सा ऐप लॉन्च किया है? (मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफायर -MANI)
  • 2018-19 में डीएवाई-एनयूएलएम के कार्यान्‍वयन में अच्छा प्रदर्शन करने वाले राज्यों की सूची में कौन सा राज्य प्रथम स्थान पर रहा? (आंध्र प्रदेश)
  • 2018-19 में डीएवाई-एनयूएलएम के कार्यान्‍वयन में अच्छा प्रदर्शन करने वाले हिमालयाई और पूर्वोत्‍तर राज्‍यों की सूची में कौन सा राज्य प्रथम स्थान पर रहा? (हिमाचल प्रदेश)
  • सन क्रीम के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने वाला प्रथम देश कौन है? (पलाऊ)
  • हाल ही में चर्चा में रहने वाले द्वीपीय देश पलाऊ किस महासागर में स्थित है? (प्रशांत महासागर)
  • किस देश ने दुनिया की पहली स्मार्ट और हाईस्पीड ट्रेन का परिचालन प्रारंभ किया है? (चीन)
  • हाल ही में उड़ान सूचना प्रणाली से लैस किस विमान को भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया है? (डॉर्नियर-228)
  • देश के पहले चीफ आफॅ डिफेंस स्‍टाफ (सीडीएस) के पद पर किसे नियुक्ति प्रदान की गई है? (जनरल बिपिन रावत)

स्रोत साभार: Dainik Jagran (Rashtriya Sanskaran), Dainik Bhaskar (Rashtriya Sanskaran), Rashtriya Sahara (Rashtriya Sanskaran) Hindustan Dainik (Delhi), Nai Duniya, Hindustan Times, The Hindu, BBC Portal, The Economic Times (Hindi & English), PTI, PIB

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिये यहां क्लिक करें