(राष्ट्रीय मुद्दे) संस्थागत संकट (CBI विवाद) (Institutional Crisis and CBI Controversy)


(राष्ट्रीय मुद्दे) संस्थागत संकट (CBI विवाद) (Institutional Crisis and CBI Controversy)


एंकर (Anchor): कुर्बान अली (पूर्व एडिटर, राज्य सभा टीवी)

अतिथि (Guest): एन. के. सिंह ( पूर्व संयुक्त निदेशक, CBI), सत्य प्रकाश (लीगल एडिटर, 'द ट्रिब्यून')

सन्दर्भ:

हाल के दिनों में देश की कई कई प्रनुख संवैधानिक संस्थाओं में गंभीर विवाद सामने आये है। सुप्रीम कोर्ट में पिछले साल सितम्बर माह में हाई कोर्ट के एक रिटायर्ड जज के मामले को लेकर मुख्य न्यायधीश और वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण के बीच 'हितों के टकराव' को लेकर खासा विवाद हो गया था| इस साल जनवरी माह में सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपने ही मुख्य न्यायाधीश पर गंभीर सवाल उठाये और फिर मई माह में जजों की नियुक्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट और सरकार के बीच काफी तकरार हुई|इससे पहले मुख्य सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) और सतर्कता आयुक्त ( वीसी) की नियुक्ति को लेकर भी मामला विवादों में रहा और पांच वर्ष पहले बने लोकपाल क़ानून का भविष्य तो अभी भी अधर में लटका हुआ है|रिज़र्व बैंक और सरकार का टकराव भी अकसर देखने को मिल रहा है और उसका खामियाजा भारतीय अर्थव्यवस्था को भुगतना पड़ता है |

हालिया घटनाक्रम में देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की साख और प्रतिष्ठा पर एक बार फिर से उँगलियाँ उठी हैं ।दरअसल सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना दोनों ने एक-दूसरे पर रिश्वत लेने के गंभीर आरोप लगाए हैं। मामला कोर्ट और सरकार दोनों तक पहुंचा लेकिन सरकार ने आधी रात में जिस तरह से सक्रियता दिखाई उस पर भी सवाल खड़े हुए हैं। सरकार ने दोनों आला अफसरों को छुट्टी पर भेज दिया है| लेकिन विपक्ष इस कार्यवायी को राफेल सौदे की जांच में हस्तक्षेप से जोड़कर देख रहा है। दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई अधिकारियों के रिश्वत के आरोपों की निष्पक्ष जांच के लिए केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) को दो हफ्ते का समय दिया है। जिसकी निगरानी सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे |

हालांकि यह पहली बार नहीं है; जब CBI सवालों के घेरे में है ।सीबीआई के बारे में धारणा बन गई है कि सरकार अपने विरोधियों को काबू में रखने के लिए उसका इस्तेमाल करती रही है। इससे पहले 2G और कोल ब्लाक घोटाले में भी CBI के निदेशक रंजीत सिन्हा पर गंभीर आरोप लगे थे ।

Click Here for राष्ट्रीय मुद्दे Archive

For More Videos Click Here (अधिक वीडियो के लिए यहां क्लिक करें)


Get Daily Dhyeya IAS Updates via Email.

 

After Subscription Check Your Email To Activate Confirmation Link